Tuesday, April 20, 2021
spot_img

आपके लिये कंप्यूटर सही हैं या लॅपटॉप

 दोस्तों आज का सबसे बड़ा सवाल ये है की क्या मैं Computer खरीदूं या फिर Laptop?


जैसे की आप सभी ये बात तो जानते ही है की
Technology दिन ब दिन कितनी Upgrade होती जा रही है. पहले एक वक़्त ऐसा था जब दुनिया मैं कोई भी Technology नहीं थी. वक़्त के साथ धीरे धीरे नए नए Invention होते गए और उन मैं धीरे धीरे जो update होते गए.

और दुनिया Technology की तरफ बडती चली गई, जिससे हमारे जो भी काम घंटो मैं होते थे अब वही काम मिनटों मैं होते है. पर आज के दौर मैं जो भी काम होते है वो सभी काम बिना Computer के मुमकिन नहीं है.

बिना Computer के कुछ भी नहीं हो सकता, जैसे की आप खुद भी ये बात जानते है की Railway Ticket Book करना हो, या फिर Airplane Ticket, या फिर College का Form भरना हो, और भी बोहत कुछ, पर ये सभी काम करने के लिए कंप्यूटर की जरुरत होती है.

पर जैसा की मैं ने आपसे पहले हे बता दिया की Technology वक़्त के साथ साथ धीरे धीरे Upgrade होती गई है. वैसे ही Computer मैं भी बोहत सारे Changes आते गए है. अब हम Computer के साथ साथ Laptop का भी इस्तेमाल करते है. Scientist ने Computer को ही upgrade करते वक़्त ऐसा सोचा की क्यों न हम एक ऐसा Machine बनाये जो की कहीं पर भी लेकर जा सके. जैसे की Hotel, Garden, Office, Train, Bus, Airplane, Village, etc. यही चीज़ों को सोच कर Laptop का Invention किया गया.

- Advertisement -

Laptop मैं भी धीरे धीरे Changes आते गए. अभी तो Touch Screen Laptop , और भी नए नए Market मैं आ रहे है. पर हम परेशान इसलिए है की हमारे दिमाग मैं यही चल रहा होता है की दोनों मैं से कोनसा खरीदना हमारे लिए सही है, Computer या फिर Laptop.

अगर आपको Computer खरीदना है या फिर Laptop ये सब कुछ आपकी जरुरत पर निर्भर करता है. अगर आप जो है Computer या फिर Laptop खरीद रहे है तो किस काम के लिए खरीद रहे है. और आप इन दोनों का इस्तेमाल की तरह से करेंगे. जैसे की मैं आप से ये कहना चाहता हूँ की अगर आप एक जगह से दूसरी जगह जाना चाहते है.

मतलब जैसे की सफर (Travel) करते है तो आपके लिए Laptop सबसे Best Option है. और अगर आप सफर (Travel) नहीं करते है तो आप Office मैं काम करते होंगे या फिर Office का काम घर पर करते होंगे तो आपके लिए Computer Best Option है.

और अगर आप दोनों मैं से जो भी खरीदते (Purchase) है तो आपको दोनों के बिच का अंतर पता रहना चाहिए. तब जा कर आप एक अच्छी चीज़ खरीद सकते है.

- Advertisement -

और हम ये भी सोचते है की अगर मैं ने Computer खरीद लिया तो मैं भविष्य मैं  Laptop लूँ क्या? और जब Laptop इतना Upgrade है की अगर मैं ने Laptop ले लिए तो फिर क्या मुझे Computer लेने की जरुरत है?

आज मैं इसकी पूरी जानकारी आपको दूंगा की आपके लिए क्या Better है, तो चलिए फिर शुरू करते है, और जानते है की Computer और Laptop मैं क्या अंतर है? और ये हमारे लिए हमारी ज़िन्दगी मैं इतने क्यों जरुरी है? और इनसे हमारे क्या फायदे है? तो चलिए फिर शुरू करते है.

जैसे की आप सभी ये बात तो जानते ही है की हमारे पास दो विकल्प Available होते हैं. जिनमे पहला डेस्कटॉप (Desktop) और दूसरा लैपटॉप (Laptop) है.

आज मैं आपको इन्ही दोनों के विषय में बताने जा रहा हूँ. आज मैं आपको “Difference between Desktop and Laptop” अर्थात डेस्कटॉप और लैपटॉप में क्या अंतर है?” मैं आपको इसी विषय में जानकारी देने जा रहे हैं. तो चलिए शुरू करते हैं आज का ये हमारा टॉपिक (Topic).

- Advertisement -

चलिए मैं आपको सबसे पहले Desktop के बारे मैं बताऊंगा.

Enroll Free Computer Course

डेस्कटॉप क्या है? What is Desktop in Hindi

डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) जो है ये हमारा वो कंप्यूटर है जो पुराने जमाने से चलता आ रहा है. जिसमे हमे मॉनिटर (Monitor), सी पि यू (CPU), माउस (Mouse) और कीबोर्ड (Keyboard) की जरुरत पड़ती है. इस तकनीकी (Technology) को दुनिया का बादशाह माना जाता है.

ये जो है अभी के समय से नहीं बल्कि पुराने समय में चलने वाला कंप्यूटर है. वैसे तो इसके मुख्य भाग (Main Part) मॉनिटर (Monitor), सी पि यू (CPU), माउस (Mouse) और कीबोर्ड (Keyboard) हैं, लेकिन इस मैं जितनी भी आंतरिक प्रोसेसिंग (Internal Processing) होती है, वो सारी CPU के जरिये होती है.

इसमें मॉनिटर (Monitor), सी पि यू (CPU), माउस (Mouse) और कीबोर्ड (Keyboard) सभी मिल कर काम करते हैं. पर आप सभी एक चीज़ का ये ध्यान रखे की अगर इनमे से कोई भी एक चीज भी कम होती है, तो डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) को चलाना हमारे लिए काफी मुश्किल हो जाता है.

और इस मैं सब से बड़ी बात ये है की  डेस्कटॉप  (Desktop) का मस्तिष्क (Brain) CPU को कहा जाता है. क्यूंकि यही कंप्यूटर (Computer) में आउटपुट इंस्ट्रक्शन (Output Instruction) को उन्हें लॉजिकल इंस्ट्रक्शन (Logical Instruction) के जरिए बदल के हमे रिजल्ट मॉनिटर (Result Monitor) पे शो (Show) कराता है.

मैं आप सभी को बोहत ही ज्यादा बड़ी बाते बताना चाहते हूँ की वो यह है जब आप Computer या फिर Laptop खरीदने की सोच रहे है तो आपको इन दोनों के बिच एक सबसे बड़ा फरक नज़र आएगा और व है, Price का वैसे तो दोनों की कीमतों फरक तो होता है. अगर ऐसा देखा जाए तो काम पैसे होने पर आप Computer खरीद सकते है.

जैसे की मैं आपको कुछ उद्धरण के जरिए समझाता हूँ, देखिये अगर आपका जो Budget है वो है 25000 का तो आप अगर Laptop लेना चाहते है तो उसके Configuration देख कर अगर आप Satisfaction नहीं हुवे तो भी आप आसानी से Computer भी परचेस कर सकते है. और अगर ऐसा देखा जाए तो Laptop के मुकाबले मैं Computer आपके लिए एक दम सस्ते मैं रहेंगे.

चलिए अब मैं आपको Laptop के बारे मैं बताऊंगा की

लैपटॉप क्या है? What is Laptop? In Hindi

लैपटॉप (Laptop) भी जो है वह  कंप्यूटर का एक दूसरा रूप है. जिसे आधुनिक (Modern) दुनिया में काफी हद से ज्यादा पसंद किया जाता है. इसमें डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) की तरह CPU, मॉनिटर (Monitor), माउस (Mouse), स्पीकर (Speaker) और कीबोर्ड (Keyboard) अलग अलग नहीं होते हैं. इसमें ये पांचो भी  चीजों को जोड़ के एक प्रोडक्ट (Product) बना गया है.

जिसे लैपटॉप (Laptop) नाम दिया गया है. और इसकी सबसे अच्छी बात ये होती है की इसे पुरे समय बिजली के साथ कभी भी जोड़े रखने की जरुरत नहीं होती है. इसे बस इसके चार्जर के जरिए एक बार चार्ज करके आप Laptop को कई घंटो तक चला सकते हैं. और तो और आप इसे किसी भी स्थान पर ले जा सकते हैं आराम से. और बाकि सारे काम इसके डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) की तरह ही होते हैं.

अब मैं आपको Laptop का Difference समझता हूँ और वो ये है की पोर्टेबिलिटी (Portability), Portability का मतलब होता है जिसे आप एक जगह से दूसरी जगह आसानी से ले जा सकते है. जबकि आपको भी ये बात पता है की Computer को एक जगह से दूसरी जगह नहीं ले जाया जा सकता है, पर वहीँ अगर बात Laptop की की जाए तो Laptop को कहीं पर भी आसानी से ले जाया जा सकता है. यही इनका सबसे बड़ा Difference है. 

Difference between Desktop and Laptop  in Hindi

अब मैं आपको Difference between Desktop and Laptop  in Hindi | डेस्कटॉप और लैपटॉप कंप्यूटर में क्या अंतर है इसके बारे मैं बताऊंगा. तो चलिए फिर देखते है.

वैसे अगर ध्यान से देखा जाए तो डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer), लैपटॉप (Laptop) की अपेक्षा (Expect) सस्ते होते हैं.

डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) में सी पि यू (CPU), माउस (Mouse), मॉनिटर (Monitor), कीबोर्ड (Keyboard) आदि अलग अलग होते हैं. जिन्हे बाद में इस सब को जोड़ के काम किया जाता है जबकि लैपटॉप (Laptop) में इन सभी चीजों को जोड़ के एक प्रोडक्ट (Product) बना गया है.

डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) को सफर करते समय या फिर किसी ओर वजह से नहीं ले जाया जा सकता है. क्यूंकि ये पोर्टेबल (Portable) नहीं होता है. वहीं ध्यान से देखा जाए तो दूसरी ओर लैपटॉप (Laptop) को आसानी से कहीं भी ले जाया जा सकता है.

इस मैं सबसे जरुरी बात यही है की आज के समय में लोग लैपटॉप (Laptop) को अधिक पसंद (More Like) करते हैं. क्यूंकि इसे कहीं भी साथ ले जाया जा सकता है. जबकि हम  डेस्कटॉप (Desktop) के साथ ऐसा नहीं कर सकते है.

आप जो है डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) को जितनी भी देर चलाना होता है. उसे उतने समय तक बिजली से कनेक्ट (Connect) रखना पड़ता है. और अगर लैपटॉप की बात की जाए तो उसको बस एक बार चार्ज करना होता है जिस तरह से आप मोबाइल फ़ोन को Charge करते है.

आप सभी इस चीज़ पर गौर करे की डेस्कटॉप (Desktop) को लोग अपने हिसाब से अस्सेम्ब्ल  (Assembly) करा सकते है. और लैपटॉप (Laptop) को लोगों को कंपनी के मर्ज़ी के हिसाब से ही लेना होता है.

अगर आप अपने मर्जी के बजट (Budget) के अनुसार लैपटॉप (Laptop) की कनफिगरेशन (Configuration) मिलना थोड़ा मुश्किल होता है। क्यों इसमैं जो है  कभी तो स्क्रीन छोटी (Small Screen) तो कभी रैम कम (Less RAM) या हार्डडिस्‍क कम (Less Hard Disk) होने की वजह होती है।

वहीं अगर दूसरी तरफ देखा जाए तो डेस्कटॉप (Desktop) में सीपीयू (CPU) और मॉनिटर (Monitor), माउस (Mouse), कीबोर्ड (Keyboard), स्पीकर (Speaker) अलग-अलग होता है। और आप चाहेतो अपनी इच्छानुसार सीपीयू (CPU), मॉनिटर (Monitor), माउस (Mouse), कीबोर्ड (Keyboard), स्पीकर (Speaker)  स्क्रीन साइज (Screen Size) वाले मॉनिटर (Monitor) लेने में आपको आसानी होती है।

डेस्कटॉप (Desktop) हो या फिर लैपटॉप (Laptop) दोनों का सबसे महत्वपूर्ण भाग प्रोसेसर (Critical Part Processor) और रैम (RAM) है और दोनों की स्पीड (Speed) भी इन्ही पे निर्भर (Dependent) करती है. डेस्कटॉप (Desktop) का प्रोसेसर अपग्रेड (Processor Upgrade) किया जा सकता है. लेकिन ये ध्यान रखना है की आप लैपटॉप का (Processor Upgrade) नहीं कर सकते है. लेकिन एक काम इस मैं हो सकता है और वो यह है की  रैम (RAM) दोनों की भी बढाई जा सकती है.

और आपको यही ध्यान रखें है की कोनसा System आप खरीदना चाहते है जैसे की आप अगर एक जगह से दूसरी जगह जाते है तो Laptop आपके लिए अच्छा (Better) है.क्यों के अगर आपको School और College की पढाई करना है तो Laptop भी ठीक है. और अगर घर पर ही रहते हो और सारा काम Computer के जरिए घर पर ही होता है तो Computer लीजिये.

कभी कभी आपके साथ ऐसा भी हो की डेस्कटॉप (Desktop) का अगर माउस (Mouse), कीबोर्ड (Keyboard) अगर खराब हो जाता है. तो उसे आसानी से सस्ते में भी खरीदा जा सकता है और जबकि यही काम लैपटॉप (Laptop) में आपके लिए बोहत महंगा पड़ जाता है.

Enroll Free Computer Course

Design : 

अब मैं आपको इनके Design के बारे मैं बताऊंगा

इस मैं कोई शक नहीं है की Design में लैपटॉप जो है कंप्यूटर से बेहतर है, इसमे कोई भी Doubt नही है। आपको भी ये बात पता है की आज कल आपको बहुत ही स्लिम (Slim) और स्टाइलिश (Stylish) लैपटॉप (Laptop) मिलते है।

वंही अगर हम एक डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) की बात करे तो ये उतना स्टाइलिश (Stylish) नहीं होता हैं. और डेस्कटॉप (Desktop) का जो मॉनिटर (Monitor), सी पि यू (CPU) Keyboard जैसे मुख्य हार्डवेयर (Main Hardware) बहुत ही  simple होते है।

और आपको ये भी ध्यान रखना है की डेस्कटॉप (Desktop) में एक्सटर्नल (External) और इंटरनल (Internal) दोनों प्रकार (Types) से हार्डडिस्क (Hard Disk) बढ़ाई जा सकती है. और जबकि लैपटॉप (Laptop) में सिर्फ एक्सटर्नल हार्ड डिस्क (External Hard Disk) बढ़ सकती है.

डेस्कटॉप (Desktop) में आसानी से इंटरनल ग्राफिक्स कार्ड अपग्रेड (Internal Graphics Card Upgrade) किया जा सकता है. और जबकि ये काम लैपटॉप (Laptop) में महंगा और मुश्किल भी होता है।

और अगर हम बात करे इन दोनों के Screen Size की तो आपको ये ध्यान रखना है की Laptop मैं जो Screen Size होती है वो Fixed होती है आप उसे बदल नहीं सकते है. पर Computer के Monitor की Size आप बदल भी सकते है.

अगर आपको Gaming के लिए चाहे तो आप बड़ी Screen लगा सकते है और अगर आपको Video Editing भी करना है तो भी आप बड़ी Screen लगा सकते है. अगर आप बड़ी Screen चाहते है तो फिर आप Computer खरिदे.

अगर मैं हमारे Life Cycle की बात करूँ तो कंप्यूटर (Computer) जो है  लैपटॉप (Laptop) के मुकाबले मैं ज्यादा लंबे समय तक चलता है। इसलिए आप अगर लंबे समय तक अपने PC को चलाना चाहते हैं तो आपको एक कंप्यूटर (Computer) ही खरीदना चाहिए।

और अगर दूसरी ओर Computer के अलावा अगर आप लैपटॉप (Laptop) खरीदते (Purchase) है. और अगर आप उसे धूल से बचा कर रखते हैं। तो आपका लैपटॉप (Laptop) भी काफी लंबे समय तक चल सकता है।

और अक्सर यह भी देखा गया है कि लैपटॉप (Laptop) के जल्दी खराब होने का कारण सिर्फ और सिर्फ धूल और मिट्टी होती है. इसलिए अगर आप लैपटॉप खरीदते हैं और उसे धूल और मिट्टी से बचा कर रखते हैं तो आपका लैपटॉप (Laptop) भी काफी लंबे समय तक काम कर सकता है।

Upgrading Parts :

अब बात करते है इनके Upgrading Parts के बारे मैं.

ये तो सबसे बड़ा Difference है की आप जब एक नया Computer खरीदते है तो. कुछ सालों बाद अगर आपको लगे की Computer अब Hang कर रहा है, और कुछ Problem हो रही है तो आप जब चाहे तब Computer के जो भी Parts आप चाहेतो बदल सकते है. पर आपको एक चीज़ का ये ध्यान रखें है की Laptop मैं कुछ चीज़ें ही बदली जा सकती है सब नहीं.

Performance :

चलिए अब थोड़ा इनके परफॉरमेंस (Performance) के बारे मैं जानते है.

आप जो भी System खरीदते है जैसे की Computer हो या फिर Laptop तो आप सभी यही चाहते है की आपको सिस्टम (System) का Performance अच्छा रहे. लेकिन मैं आपको ये बता चाहता हूँ की अगर आपका काम ज्यादा हेवी है जैसे की Gaming और Video Editing तो फिर आपको Computer लेना चाहिए.

 अगर आप Laptop लेते है तो आप उस मैं ज्यादा Have Software Install मत कीजिये. थोड़े बोहत ही Software Install कीजिये जैसे की MS Office , Tally.ERP 9, Adobe Reader, WinRAR, etc. अगर आप Laptop मैं ज्यादा Have Software Install करते है तो Hang करना शुरू करता है.

और इस मैं सबसे जरुरी बात ये है की आप दोनों System मैं से अगर कोई भी लेते है जैसे की Computer या फिर Laptop तो आप पर निर्भर (Dependent) करता है. क्यों के ये दोनों भी अपनी अपनी जगह सही है. अगर आपका काम बहार का हो और आप एक जगह से दूसरी जगह जाते है तो आपके लिए Laptop लेना सही है. और अगर आप अपना ज्यादा तर काम घर बैठे करते है तो Computer आपके लिए सही है.

Enroll Free Computer Course

आशा है आपको इस ब्लॉग में Computer Versus Laptop की जानकारी मिली होगी और ऐसे ही ब्लॉग पड़ने के लिए निचे दिए गए लिंक्स पे क्लिक करे |

कंप्यूटर टिप्स   ||  एक्सेल टिप्स   ||  टैली टिप्स  ||  ऑटोकैड टिप्स  || वर्ड टिप्स || एक्सेल एग्जाम  ||  टैली एग्जाम   

- Advertisement -
Avatar
Satish Dhawalehttp://learnmorepro.com
Satish Dhawale has 14 years experience as Computer Trainer. He is a Successful YouTuber having 7+ YouTube Channels. Recently He founded LEARN MORE PRO (Website) and MAZA COURSE (Android Application), Educational Platform for online computer courses with at fair and cheap price in regional Hindi And Marathi languages.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Windows 10 के 12 Personalize Tips हिन्दी मे।

क्या आप भी अपने कंप्युटर मे विंडोज़ 10 का उपयोग करते है? जी हाँ बिल्कुल करते ही होंगे क्युकी आज के समय मे विंडोज़...
- Advertisment -

Popular

टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के लिए ये सात टिप्स

टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के लिए ये सात टिप्स | Typing tips to increase speed  आजकल हर कोई कंप्यूटर में जॉब करना चाहता है ?, पर...

31 Excel Powerful Formulas

31 Excel Powerful Formulas Explain in Hindi इस ब्लॉग में वो ३१ फार्मूला है एक्सेल के जो हमे हर ऑफिस यूज़फुल होते है तो इन...

MSCIT Theory Questions Marathi – Part 3

प्रश्न १. मॉनिटरच्या स्क्रीनवरील एखाद्या प्रतिमेच्या आऊटपुटला नेहमी सॉफ्टकॉपी म्हटले जाते.       चूक       बरोबर उत्तर तपासा ! प्रश्न २. हेडफोन ही एक...

Hindi, Marathi typing ISM Software Free download

Hindi, Marathi typing ISM Software Free download अगर हिंदी  या मराठी टाइपिंग सीखना चाहते हो  इसके लिए आपको एक सॉफ्टवेयर आपने लैपटॉप या कंप्यूटर में...

Video Editing Tutorial Download Files

Video Editing Tutorial Download Files तो सभी फाइल्स डाउनलोड के लिए निचे दिए गए लिंक्स पे क्लिक कर सकते है और निचे टॉपिक्स भी दिए...
- Advertisment -

Technology

Personalize

Windows 10 के 12 Personalize Tips हिन्दी मे।

क्या आप भी अपने कंप्युटर मे विंडोज़ 10 का उपयोग करते है? जी हाँ बिल्कुल करते ही होंगे क्युकी आज के समय मे विंडोज़...
WhatsApp

बिना मोबाइल नंबर सेव किये WhatsApp पे मैसेज भेजे

दोस्तों WhatsApp आज के समय में एक ऐसा App है। जो हर कोई अपने मोबाइल में इस्तेमाल करता है। इसे चाहे दोस्तों को मैसेज...
What is Domain Name

Domain Name क्या होता है?

What is Domain Name explained in Hindi? नमस्कार दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम Domain क्या है और इसका उपयोग क्यों होता है? यह...
Whats-App Trick

WhatsApp Texting Tips and Tricks in Hindi

WhatsApp में किसी Text को bold कैसे करे? | How to make text bold in WhatsApp explained in Hindi? WhatsApp एक बिल्ट-इन फीचर के साथ...
Lost Mobile phone

मोबाइल खो जाने पर क्या करे?

How to find or lock lost Mobile Phone? अक्सर हमारे साथ ऐसा होता है, जब हमने अपना फोन किसी स्थान पर खो दिया है...
- Advertisment -