इंटरनेट क्या है ? What is Internet Hindi?

इंटरनेट क्या है ? What is Internet Hindi?

इंटरनेट क्या है ? What is Internet Hindi?

अब आप ये सोचोगे यार इंटरनेट तो हम रोज इस्तेमाल करते है और हमे तो इसके बारे में पता है, लेकिन शायद आपको इंटरनेट के बारे में ऐसे कुछ रोचक बाते पता नहीं होगी जो इस ब्लॉग में मैंने बताई है |

Internet in Hindi, Internet Defination

आज इंटरनेट के बिना बहोत सारी चीजे मुंकिन ही नहीं ये आप सभी को पता है, बस ये इंटरनेट आया कैसे? इसका जनक कोण है? और इसे इंटरनेट नाम ही क्यों दिया गया ? ऐसे सरे सवालोंके जवाब आपको इस ब्लॉग में मिलेंगे तो चलिए शुरू करते है

What is Internet? इंटरनेट क्या है ?

इंटरनेट को आसान शब्दों में बताऊ तो पुरे जहाँ में जितने भी कंप्यूटर है वो एक दूसरे से कनेक्टेड है और वो इक दूसरे से इनफार्मेशन का आदान प्रदान करते है उसे हम इंटरनेट कहते है, पुरे जहाँ में लगभग १९० देश है जिनके कम्प्यूटर्स इंटरनेट से कनेक्टेड है ..इसे हम network of network भी कहते है |
अब इंटरनेट आया कैसे ?
तो जैसे की आपको पता ही होगा की १९३९ से १९४५ तक दूसरा महायुध्द चल रहा था, इस दौरान अमेरिका का जितने भी लड़ाई में शामिल हुए SOLDIERS थे, या अलग अलग जगह पे होने वाले युद्द की जानकारी अमेरिका के डिफेन्स अकडेमी के पास नहीं मिल पा रही थी, तो फिर उनोने युद्द के बाद इसके ऊपर शोध चालू किया और १९६० से ७० के दशक में उनोने लगभग अमेरिका के ४ शारोंके के कंप्यूटर एक दूसरे से जोड़ दिए और उनमे जानकारी एक दूसरे में भेजना शुरू किया ..और फिर ऐसे ही चलकर इंटरनेट की खोज हुई

अब इसका जनक कोण है ? Founder of Internet
अब देखा जाये तो इसका कोई मालिक नहीं है और नहीं ही फाउंडर है पर DARPA- The Defense Advanced Research Projects Agency (DARPA) is an agency of the United States इनोने कम्प्यूटर्स आपस में कनेक्ट करने का शोध लगाया |

नेटवर्क ऑफ़ नेटवर्क याने बहोत सारे नेटवर्क एक दूसरे से कनेक्टेड है उने आसान नाम इंटरनेट दिया गया है याने आन्तरजाल

अच्छा अब आपके मन में ये सवाल जरूर आया होगा

ये सारे जहाँ के कंप्यूटर कनेक्ट कैसे है ? 
ये कम्प्यूटर्स एक दूसरे से वायर और वायरलेस मध्यम से कनेक्टेड है, और मै आपको बताऊँ की दो देशोंके बिच तो ये वायर से ही कनेक्टेड है जैसे की आप निचे के इमेज में देख सकते है की समुद्र के अंदर से केबल से पुरे जहाँ में नेटवर्क का जाल बिछाया गया है और उन केबल्स को सबमरीन केबल कहा जाता है |

internet cable hindi

फिर ये इंटरनेट आप के घर तक पहोचता कैसे है ? 
ये सबमरीन केबल लगाने वाली कम्पनीज को TR १  कंपनी बोलते है जैसे की हमारे देश में रिलायंस जिओ है जीनोने अपनी सबमरीन केबल समुद्र में बिछाई है और फिर वो नेटवर्क अलग TR2 कम्पनीज को बेचते है और फिर वो ISP याने  INTERNET SERVICE PROVIDER को देते है और वो हमारे घर पे केबल लगवाते है तो ऐसे हमारे पास इंटरनेट पहोचता है |

आशा है आपको इस ब्लॉग में इंटरनेट की जानकारी मिली होगी और ऐसे ही ब्लॉग पड़ने के लिए निचे दिए गए लिंक्स पे क्लिक करे |

कंप्यूटर टिप्स   ||  एक्सेल टिप्स   ||  टैली टिप्स  ||  ऑटोकैड टिप्स  || वर्ड टिप्स || एक्सेल एग्जाम  ||  टैली एग्जाम 

Spread the love

Satish Dhawale

मुझे कंप्यूटर शिक्षण के क्षेत्र में 14 साल का अनुभव है, मैं NRIT संस्थान में ट्यूटर हूँ जहाँ मैंने 14 वर्षों के अंतराल में 40000 से अधिक छात्रों को कंप्यूटर शिक्षा दी। उसके बाद मैंने अपना YouTube चैनल Learn More शुरू किया, जहाँ लोगों ने मेरी शिक्षण शैली को पसंद किया और उनके प्यार से मैं सफल रहा हूँ। आज मेरे पास 7 यूट्यूब चैनल हैं। मैंने अपनी ब्लॉगिंग वेबसाइट भी शुरू की है जहाँ आप अभी हैं। यहाँ मैं कंप्यूटर, MS Office, Tally, MSCIT, Photoshop आदि के बारे में सभी महत्वपूर्ण और ज्ञानवर्धक जानकारी प्रदान करता हूँ। हमारे शैक्षिक मंच www.learnmorepro.com जहां हम सस्ते दर पर कंप्यूटर कोर्स प्रदान करते हैं।

Leave a Reply