Tuesday, April 20, 2021
spot_img

Form 16 क्या है?

What is Form 16 and why is it important explained in Hindi?

दोस्तों आपने कहीं न कहीं Form 16 के बारे सुना ही होगा, यह Form वित्तीय वर्ष (Financial Year) के आखिर में काफी चर्चा में रहता है, आज हम आपको Form 16 के बारे में ही बताने वाले है तो इस ब्लॉग को जरूर पूरा पढ़े।

Form 16 एक दस्तावेज या प्रमाण पत्र है, जो आयकर अधिनियम 1961 की धारा 203 के अनुसार, भारत में वेतनभोगी कर्मचारियों (Salaried Employee) को उनके कंपनियों (Employer) द्वारा जारी किया गया है। इसके अलावा, इसे एक “वेतन प्रमाण पत्र” के रूप में संदर्भित किया जाता है, इसमें संगठन या कंपनी (Employer) द्वारा किसी विशेष वित्तीय वर्ष (Financial Year) में कर्मचारी (Employee) को दिए गए वेतन (Salary) और भुगतानकर्ता (Deductor) द्वारा व्यक्ति के वेतन से काटे गए आयकर (Income Tax) के संबंध में पूरी जानकारी होती है।

आयकर अधिनियम के अनुसार, प्रत्येक संगठन या कंपनी (Employer) को अपने कर्मचारी को वेतन का भुगतान करते समय, कर्मचारी के वेतन से कर या टीडीएस (Tax or TDS) की कटौती करने की आवश्यकता होती है, जिसकी गणना (Calculation) वित्तीय वर्ष (Financial Year) के आयकर स्लैब दरों (Income Tax Slab Rate) के आधार पर होती है।

कंपनियां (Employer) आमतौर पर कर्मचारी (Employee) द्वारा देय कर (Tax Payable) की गणना, शुरुआत में या वर्ष के दौरान कर्मचारी द्वारा बताये गए अनुमानित कमाई (Estimated Income) और निवेश घोषणाओं (Investment Declaration) के आधार पर करती हैं।

- Advertisement -

जब कोई भी कंपनी (Employer)  अपने कर्मचारियों के वेतन से TDS काटता है, तो कंपनी द्वारा काटा गया TDS आयकर विभाग (Income Tax Department) के पास जमा होता है और बदले में Form 16 उसी का प्रमाण होता है

कंपनी को अपने वित्तीय वर्ष के 31 मई या उससे पहले अपने कर्मचारियों को Form 16 जारी करना होता है, जिसके तुरंत बाद उस वित्तीय वर्ष का भुगतान किया जाता है जिसमें आय का भुगतान किया गया था और कर (Tax) कटौती की गई थी।


Form 16 इतना महत्वपूर्ण क्यों है? | Why Form 16 is so important?

Form १६ वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण Income Tax Form में से एक होता है।

इसमें कर्मचारी द्वारा प्राप्त किए गए वेतन से संबंधित सभी जानकारी शामिल होती है, और साथ ही उसके वेतन से कटौतीकर्ता (Deductor) द्वारा कितना टैक्स काटा गया है उसकी भी जानकारी होती है।


Form 16 को कितने भागो में बांटा गया है? | In How many parts form 16 is divided?

- Advertisement -

Form 16 को निम्नलिखित दो भागों में बांटा गया है जिसमें निम्नलिखित शामिल हैं:

Form 16 – Part A:

1. कंपनी (Employer) द्वारा कर (Tax) कर्मचारी की वेतन आय (Salary Income) से लिया गया और कर्मचारी की ओर से सरकार के खाते में जमा किया गया।
2. यह कंपनी (Employer) द्वारा विधिवत हस्ताक्षरित प्रमाण पत्र है कि उन्होंने कर्मचारी के वेतन से TDS काट लिया है और इसे आयकर विभाग के पास जमा किया है।

Form 16 Part A

Form 16 – Part A में निम्नलिखित विवरण शामिल हैं:

1. Personal Information – कंपनी (Employer) के साथ-साथ कर्मचारी (Employee) की व्यक्तिगत जानकारी। व्यक्तिगत और कंपनी (Employer) के नाम, पते का विवरण, दोनों का PAN विवरण और कंपनी (Employer) का TAN विवरण
2. Assessment Year – जैसा कि नाम से संकेत मिलता है, यह उस वर्ष को दर्शाता है जिसमें आय का आकलन किया जा रहा है या दूसरे शब्दों में, जिस वर्ष करदाता (Taxpayer) को कर वापसी (Tax Refund) प्रक्रियाओं पर काम करने की आवश्यकता होती है।
3. वेतन का सारांश।
4. वेतन से कर कटौती की तारीख।
5. सरकार के खाते में कर जमा करने की तारीख।
6. आयकर विभाग के साथ कटे हुए और जमा किए गए कर का सारांश।
7. टीडीएस भुगतान की पावती संख्या।


Form 16 Part B:

- Advertisement -

Form 16 Part B वेतन भुगतान के बारे में विवरणों के साथ एक समेकित विवरण होता है, इसमें कर्मचारी (Employee) द्वारा अपने कंपनी (Employer) को बताए गए किसी अन्य आय (Other Income), कर का भुगतान (Tax Payment) और देय कर की राशि (Tax Due), यदि कोई हो जानकारी शामिल होती है।

यह कर्मचारी द्वारा अर्जित आय (Earned Income) को Exemption और Deductions के साथ एक व्यापक और क्रमबद्ध तरीके से सूचना को बताता है

 Part B में भी कर्मचारी के नाम और PAN जैसे विवरणों का उल्लेख किया गया है।

Form 16 Part B

Form 16 Part B में निम्नलिखित जानकारी शामिल है:

1. Total Salary Received (कुल वेतन प्राप्त): वेतन संरचना विभिन्न घटकों जैसे हाउस रेंट अलाउंस, लीव ट्रैवल अलाउंस, लीव एनकैशमेंट, ग्रेच्युटी और अन्य में टूट जाती है।
2. Exemptions Allowed (छूट प्राप्त): आयकर अधिनियम, 1961 के प्रति (10) के अनुसार, जैसे कि कर्मचारियों को कनवेन्सेंस, हाउसिंग रेंट (HRA), बच्चों की शिक्षा और छात्रावास व्यय, चिकित्सा, आदि के लिए भत्ते का भी उल्लेख किया गया है।
3. Gross Income (सकल आय): यह नियोक्ता से प्राप्त की गई वेतन आय का योग है और कर्मचारी द्वारा घोषित कोई अन्य आय जैसे कि घर / संपत्ति से अर्जित आय इत्यादि। कर्मचारी द्वारा नियोक्ता के साथ कर्मचारी द्वारा साझा की जाने वाली अन्य आय के बारे में विवरण। निवेश प्रमाण प्रस्तुत करने का चरण।
4. Deductions from Salary (वेतन से कटौती): धारा 80 सी / 80 सीसीसी / 80 सीसीडी में सार्वजनिक भविष्य निधि, जीवन बीमा पॉलिसियों, कर बचत म्यूचुअल फंड, पेंशन, सुकन्या समृद्धि आदि जैसे उपकरणों या योजनाओं के लिए किए गए योगदान शामिल हैं। उसी के लिए अधिकतम सीमा रु। 1,50,000 रु।
5. अन्य वर्गों जैसे 80 डी (स्वास्थ्य बीमा या मेडिक्लेम के लिए भुगतान किया गया प्रीमियम), 80 ई (शिक्षा ऋण पर ब्याज भुगतान), 80 जी (दान), विकलांगता के लिए कटौती और अन्य लागू वर्गों के तहत कटौती प्रदान की जाती है। इन सभी कटौतियों का विवरण नियोक्ता द्वारा आवश्यक सहायक दस्तावेजों के साथ कर्मचारी द्वारा प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
6. Net Taxable Salary (शुद्ध कर योग्य वेतन): कुल कटौती “अध्याय IV-A” के तहत एकत्र की जाती है और कर योग्य आय की गणना करने के लिए सकल आय से कम हो जाती है। इस राशि पर आपकी कर देयता की गणना की जाती है।
7.Education Cess and surcharges (शिक्षा उपकर और अधिभार) यदि कोई हो
8. यदि लागू हो तो धारा 87 के तहत छूट दें
9. धारा 89 के तहत राहत, यदि कोई हो
10. आय पर देय कर की कुल राशि (Total Tax payable on Income)
11. कर में कटौती (Tax Deducted) और बकाया कर देय (Tax Due) या रिफंड लागू (Refund Applicable)

- Advertisement -
Avatar
Satish Dhawalehttp://learnmorepro.com
Satish Dhawale has 14 years experience as Computer Trainer. He is a Successful YouTuber having 7+ YouTube Channels. Recently He founded LEARN MORE PRO (Website) and MAZA COURSE (Android Application), Educational Platform for online computer courses with at fair and cheap price in regional Hindi And Marathi languages.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

PAN कार्ड की A to Z जानकारी हिन्दी मे।

All you need to know about PAN Card PAN क्या है? | What is PAN? PAN, या permanent account number, केंद्रीय कर प्रत्यक्ष कर बोर्ड (Central...
- Advertisment -

Popular

टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के लिए ये सात टिप्स

टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के लिए ये सात टिप्स | Typing tips to increase speed  आजकल हर कोई कंप्यूटर में जॉब करना चाहता है ?, पर...

31 Excel Powerful Formulas

31 Excel Powerful Formulas Explain in Hindi इस ब्लॉग में वो ३१ फार्मूला है एक्सेल के जो हमे हर ऑफिस यूज़फुल होते है तो इन...

MSCIT Theory Questions Marathi – Part 3

प्रश्न १. मॉनिटरच्या स्क्रीनवरील एखाद्या प्रतिमेच्या आऊटपुटला नेहमी सॉफ्टकॉपी म्हटले जाते.       चूक       बरोबर उत्तर तपासा ! प्रश्न २. हेडफोन ही एक...

Hindi, Marathi typing ISM Software Free download

Hindi, Marathi typing ISM Software Free download अगर हिंदी  या मराठी टाइपिंग सीखना चाहते हो  इसके लिए आपको एक सॉफ्टवेयर आपने लैपटॉप या कंप्यूटर में...

Video Editing Tutorial Download Files

Video Editing Tutorial Download Files तो सभी फाइल्स डाउनलोड के लिए निचे दिए गए लिंक्स पे क्लिक कर सकते है और निचे टॉपिक्स भी दिए...
- Advertisment -

Technology

Personalize

Windows 10 के 12 Personalize Tips हिन्दी मे।

क्या आप भी अपने कंप्युटर मे विंडोज़ 10 का उपयोग करते है? जी हाँ बिल्कुल करते ही होंगे क्युकी आज के समय मे विंडोज़...
WhatsApp

बिना मोबाइल नंबर सेव किये WhatsApp पे मैसेज भेजे

दोस्तों WhatsApp आज के समय में एक ऐसा App है। जो हर कोई अपने मोबाइल में इस्तेमाल करता है। इसे चाहे दोस्तों को मैसेज...
What is Domain Name

Domain Name क्या होता है?

What is Domain Name explained in Hindi? नमस्कार दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम Domain क्या है और इसका उपयोग क्यों होता है? यह...
Whats-App Trick

WhatsApp Texting Tips and Tricks in Hindi

WhatsApp में किसी Text को bold कैसे करे? | How to make text bold in WhatsApp explained in Hindi? WhatsApp एक बिल्ट-इन फीचर के साथ...
Lost Mobile phone

मोबाइल खो जाने पर क्या करे?

How to find or lock lost Mobile Phone? अक्सर हमारे साथ ऐसा होता है, जब हमने अपना फोन किसी स्थान पर खो दिया है...
- Advertisment -