Do you want to learn what is CorelDraw in Hindi? | 5 मिनट मे जानिए CorelDraw क्या है?

Do you want to learn what is CorelDraw in Hindi? | 5 मिनट मे जानिए CorelDraw क्या है?
What is coreldraw? | Coreldraw क्या है?

Introduction of CorelDraw | CorelDraw का परिचय

CorelDraw क्या है? | What is CorelDraw?

दोस्तों, क्या आप भी जानना चाहते है कि CorelDraw क्या है (What is CorelDraw)?

आज मैं आपको Graphic Designing (ग्राफिक डिज़ाइनिंग) मे इस्तेमाल होने वाले एक महत्वपूर्ण सॉफ्टवेयर के बारे मे जानकारी देने वाला हूँ। जिसका नाम CorelDraw है।

CorelDraw, Corel Corporation द्वारा विकसित (Develop) किया गया एक Vector Graphics Editor (वेक्टर ग्राफिक्स संपादक) है।CorelDraw को Corel graphics suite (कोरल ग्राफिक्स सूट) के नाम से भी जाना जाता है।

जिसमें Bitmap-Image Editor (बिटमैप इमेज एडिटर), Corel Photo-Paint (कोरेल फोटो पैंसाथ अन्य ग्राफिक्स- शामिल हैं।

CorelDraw Software को Canada Corel Corporation ने सन 1989 मे लॉंच किया था। इस Software का निर्माण Corel company के Software इंजीनियर के द्वारा किया और कुछ ही समय के बाद इसमे कुछ और नए Features को जोड़ दिया गया।

CorelDraw एक Graphic Designing का ऐसा software है जिसकी मदद से आप कोई भी Graphic Designing का काम बड़ी ही आसानी से कर सकते हैं।

आज के समय मे जितने  भी डिज़ाइनिंग के काम होते हैं, वो सारे CorelDraw Software की मदद से ही किए जाते हैं। क्योंकि इससे बहुत ही आसानी से किसी भी डिज़ाइन का बनाया जा सकता है। इसलिए CorelDraw का उपयोग आज के समय मे लगभग हर कंपनी और शॉप मे डिज़ाइनिंग के लिए किया जाता है।

CorelDraw की मदत से आप Certificate, Business Visiting Card, Book Page Design, Cartoon, Company Logo जैसे अनेक डिजाइन को बना सकते है।

CorelDraw एक Paid सॉफ्टवेयर है। जिसका उपयोग करने के लिए आपको इसका लाइसेन्स वर्ज़न खरीदना होता है। वैसे CorelDraw एजुकेशन के लिए कुछ डिकॉउन्ट के साथ अलग product को देता है। इसे आप इसकी वेबसाईट से डाउनलोड कर सकते है।

CorelDraw कैसे चालू करे? | How to start CorelDraw?

एक बार CorelDraw को डाउनलोड करने के बाद इसे चालू कैसे करते है, चलिए ये सीखते है।

  • जो पहला तरीका है CorelDraw को ओपन करने का, वो Window Start Key पे क्लिक करे, फिर CorelDraw सॉफ्टवेयर को ढूंढ के उसपे क्लिक करके ओपन करे। या फिर जैसे ही आप Start बटन पे क्लिक करते है, आपके सामने Search का विकल्प दिखता है, वहाँ पे आपको “CorelDraw” को सर्च करे और फिर रिजल्ट मे CorelDraw के आने पर उसपे क्लिक करके उसे ओपन करे।
  • दूसरा तरीका है, Run Command मे जाके। आपको Windows Key + R shortcut key को अपने कीबोर्ड से दबाना है। जिसके बाद Run Command का विंडो खुल जाएगा जिसमे आपको “CORELDRW” टाइप करना है और OK करना है।

CorelDraw Interface | CorelDraw का इंटरफेस

तो दोस्तों, जैसे ही आप पहली बार कोरलड्रॉ (CorelDraw) ओपन करोगे, आपके सामने इस तरह का इंटरफ़ेस आएगा।  

What is coreldraw? | Coreldraw क्या है? | Interface
  • Welcome Screen: बाईं तरफ आपको वेलकम स्क्रीन (Welcome Screen) दिखाई देगी।
  • New Document: New Document पे क्लिक करके आप New Document बना सकते है।
  • Recent Document: New Document के ठीक बगल मे आप को Recent मे काम किए गए Document दिखेंगे। (यहाँ हमने पहली बाद CorelDraw शुरू किया है इसलिए यहाँ पे Recent Document मे कुछ नहीं दिख रहा है। )
  • Open Document: यदि आप अपना कोई पुराना Document ओपन करके उसमे काम करना चाहते है तो आप Open Document पे क्लिक करके अपने कंप्युटर से कोई भी CorelDraw का Document खोल कर उसपे सकते है।
  • New from Template: CorelDraw आपको कुछ रेडीमेड टेम्पलेट भी देता है जिन्हे आप New from Template पे क्लिक करके खोल सकते है।

CorelDraw मे New Document बनाए | Create New Document

तो दोस्तों अब हमें New Document लेना है, तो आपको सबसे पहले New Document पे क्लिक करना है। जिसके बाद हमारे सामने एक Create a new Document की स्क्रीन आ जाएगी, जिसमे निम्न जानकारी देनी होती है;

What is coreldraw? | Coreldraw क्या है? | New Document
  • Name: सबसे पहले मनपसंद Document का नाम लिख ले।
  • Preset: Preset मे CorelDraw Default ही रहने दे।
  • Number of pages: Number of pages मे कितने pages चाहिए वो लिखना होता है। फिलहाल हम 1 ही रहने देंगे।
  • Primary Model: Primary Model मे आपको दो विकल्प मिलते है CMYK और RGB:
    > CMYK: CMYK एक प्रकार का कलर फॉर्मेट होता है। जिसमे चार कलर होते है Cyan (सियान), Magenta (मैजंटा), Yellow (येलो), और K का मतलब होता है Black (काला कलर) । इसमे कलर थोड़ा सुस्त (Dull) होते है। और CMYK फॉर्मेट को ज्यादातर प्रिंटिंग के लिए, जैसे बिज़नेस कार्ड, पोस्टर, पैम्फलेट, ब्रोचर वगेरा को प्रिंट करने के लिए किया जाता है।
    > RGB: RGB का मतलब होता है Red (लाल), Green (हरा), Blue (नीला)। इन तीनो कलर्स के मिश्रण को हम RGB कहते है। जिनको हमारे वेबसाइट डिज़ाइन आदि में उपयोग किया जाता है यानी जिनको हमे प्रिंट नहीं करना होता है उनमे यूज किया जाता है।
  • Page Size: यहाँ पे हम अपना Page Size चुन सकते है। जैसे, A4 page size।
  • Width and Height: यहाँ हम चाहे तो पेज साइज़ के Width और Height मे बदलाव कर सकते है।
  • Orientation: हम पेज के Orientation को Landscape या Portrait मे बदल सकते है।
  • Resolution: हम चाहे तो पेज के resolution को भी बदल सकते है।
  • OK: और आखिर मे जब सब डिटेल्स भर दी जाए तब Ok पे क्लिक करके अपना नया Document बनाना है।

तो दोस्तों ऊपर न्यू डाक्यमेन्ट कैसे बनाते है, वह सीखा। अब हम New Document बनाने के बाद जो working area होता है उसके बारे मे जानते है।

Let’s Understand Tools and Bar of CorelDraw | CorelDraw के टूल्स और बार के बारे मे जानते है।

What is coreldraw? | Coreldraw क्या है? | New Document
  • Title Bar (टाइटल बार): Title bar सबसे ऊपर होता है, जहां पे CorelDraw का वर्ज़न लिखा हुआ होता है और साथ जिस नाम से Document सेव किया गया है। उस document का नाम होता है।
  • Menu Bar (मेनू बार): Menu Bar, Title Bar के ठीक नीचे होता है। जिसके अन्दर ढेर सारे वकल्प दिए गए है। हर मेनू का उपयोग अलग अलग काम करने के लिए किया जाता है।
  • Standard bar (स्टैण्डर्ड बार): Standard Tool Bar, Menu Bar के नीचे होता है, इसमे सामान्य इस्तेमाल होने वाले कमांड के विकल्प होते है जैसे Cut, Copy, Paste, Save, Export आदि।
  • Property bar (प्रॉपर्टी बार): जब भी हम किसी टूल का इस्तेमाल करते है, तब उस Tool के feature के अनुसार यह बार बदलता रहता है।
  • Tool Box (टूल बॉक्स): Tool Box आपको CorelDraw के बाई तरफ मे होता है। जहां पे अलग अलग प्रकार Tool होते है। जिनका उपयोग हम अपनी जरूरत के अनुसार करते है। इन सभी Tool के बारे मे हम एक एक करके आगे आने वाले ब्लॉग के जरिए पोस्ट करेंगे।
  • Status Bar (स्टेटस बार): Status Bar नीचे की ओर दाई तरफ होता है। यहाँ पे आपके Mouse के पॉइन्टर का लोकैशन बताता है कि आपका माउस वर्तमान मे CorelDraw मे कहाँ पे है। और साथ ही आप किस टूल उपयोग कर रहे है, वह भी बताता है।
  • Printing Zone (प्रिंटिंग जोन): CorelDraw मे जो पेज साइज़ हम नया डाक्यमेन्ट बनाते समय चुनते है, जैसे A4, तो CorelDraw मे जो A4 साइज़ का एरिया होता है, वह Printing Zone होता है। हम जब भी CorelDraw से कोई Print देते है, तो जो Content और Object Printing Zone मे है वही प्रिन्ट होंगे। इसीलिए जब कोई object या Content प्रिन्ट करना हो, तो उसे हमेशा Printing Zone मे रखे।
  • Working Zone (वर्किंग जोन): दोस्तों, ऊपर हमने प्रिंटिंग ज़ोन के बारे मे जाना, प्रिंटिंग ज़ोन को छोड़ के जो भी एरिया CorelDraw मे होता है, वह Working Zone कहलाता है।
  • Color Palettes (कलर पैलेट्स): CorelDraw के दाई तरफ कलर पैलेट्स होते है, जहां से आप कोई कलर पसंद करके अपने काम मे इस्तेमाल कर सकते है। कभी कभी कलर पैलेट्स पहले से दिखाई नहीं देते है, तो हमे उसे सक्रिय करना होता है। कलर पैलेट्स को सक्रिय करने के लिए आपको Windows > Color Palettes > Defaults Palettes मे जाना होता है।

Spread the love

Satish Dhawale

मुझे कंप्यूटर शिक्षण के क्षेत्र में 14 साल का अनुभव है, मैं NRIT संस्थान में ट्यूटर हूँ जहाँ मैंने 14 वर्षों के अंतराल में 40000 से अधिक छात्रों को कंप्यूटर शिक्षा दी। उसके बाद मैंने अपना YouTube चैनल Learn More शुरू किया, जहाँ लोगों ने मेरी शिक्षण शैली को पसंद किया और उनके प्यार से मैं सफल रहा हूँ। आज मेरे पास 7 यूट्यूब चैनल हैं। मैंने अपनी ब्लॉगिंग वेबसाइट भी शुरू की है जहाँ आप अभी हैं। यहाँ मैं कंप्यूटर, MS Office, Tally, MSCIT, Photoshop आदि के बारे में सभी महत्वपूर्ण और ज्ञानवर्धक जानकारी प्रदान करता हूँ। हमारे शैक्षिक मंच www.learnmorepro.com जहां हम सस्ते दर पर कंप्यूटर कोर्स प्रदान करते हैं।

This Post Has 3 Comments

  1. Mayank

    I need a PDF of this intro it is very helpful plz provide me thank you for beautiful information about Corel draw

Leave a Reply