Tuesday, April 20, 2021
spot_img

Tally ERP 9 सॉफ्टवेअर की पुरी जानकारी हिंदी में । Complete information of Tally ERP 9 Software in Hindi

आप अगर ये पोस्ट पढ़ रहे है और आपका दिल कर रहा है की मुझे Tally सीखना है तो आप सही जगह पर हो। आप Tally सीखना चाहते है तो हमारे इस Page पर बने रहिए।

अब मैं आपको Tally के बारे मैं बताऊंगा की Tally क्या है? और ये काम करता है? और हमारे लिए ये क्यों जरुरी हैक्या आप सब तैयार है?

आप मैं से बोहत से ऐसे लोग होंगे जो Government जॉब, Private जॉब, कर रहे होंगे. या फिर College Student होंगे, जो जॉब पर होंगे वो Tally पर काम कर रहे होंगे या फिर कुछ लोग ऐसे रहेंगे जिनो थोड़ा बोहत जानते होंगे या फिर उन्हें किसी और ने बताया होगी की ऐसा ऐसा करो उनको बस उतना ही Knowledge होगा। और जो College Students होंगे वो सिख रहे होंगे. तो मैं आपको Basic से Advance बताने जा रहा हूँ की Tally का है और कैसे काम करता है।

तो चलिए फिर शुरू करते है।

- Advertisement -

किसी भी व्यवसाय (Business) में एकाउंट (Account) (खाता-बही) का विशेष महत्व होता है। पर ऐसा देखा जाए तो आज से कई वर्ष पूर्व बैंक, निजी कंपनी, सरकारी कार्यालयों आदि (Bank, Private Company, Government Offices etc.) में व्यापारिक (Business) लेन-देन, धन के संग्रह, वस्तुओं (Transactions, Collection of Money, Commodities) पर किये खर्च तथा कर आदि के रिकॉर्ड (Record) को दर्ज (Enter) करने के लिए अनेक दस्तावेजो को एकत्रित (Collect Many Documents) किया जाता था।

 जिसमे इन रिकॉर्ड (Record) को व्यवस्थापित (Managed) करने और देखभाल में न सिर्फ अधिक समय खर्च होता था. जब की हर साल इन दस्तावेजों (Documents) के लिए इस्तेमाल किये गए पत्रों (Letters) के लिए किये बड़ी मात्रा में वनों का कटाव होता था।

लेकिन आज स्थिति भिन्न (Different) है! आज कंप्यूटर (Computer) के इस युग में अलग अलग कार्यो (Works) को सरलता और भी तेजी से किया जा सकता है और वर्तमान समय में सरकारी कार्यालयों, बैंकों, निजी कंपनियों में अकाउंटिंग (Government Offices, Bank, Private Companies) के कार्यो (Works) के लिए Tally.ERP 9 का इस्तेमाल किया जाता है।

Tally.ERP 9 की अनेक विशेषताओ (Many Features) के जरिए आज Tally.ERP 9 का इस्तेमाल दुनिया भर में विभिन्न (Different) MNC कंपनियों में किया जाता है।

- Advertisement -

Tally एक एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर (Accounting Software) है। जिसका इस्तेमाल आमतौर पर व्यापार (Business) में कंपनी (Company) के वित्तीय भुगतानों की गणना (Calculation of Financial Payments) हेतु किया जाता है।

Tally का इस्तेमाल किसी कंपनी में माल के स्टॉक (Stock of Goods) को व्यस्थापित करने (Managed), माल (Goods) पर किये गए व्यय (Expenses) तथा उत्पाद (Product) से जुड़ी जानकारी टैली (Tally.ERP 9) के अंतर्गत संरक्षित (अंडर Product) की जा सकती है।

सरल शब्दों में Tally.ERP 9 को समझा जाए तो Tally का मुख्य कार्य  (Main Work) किसी कंपनी (Company) के खाते (Account) को व्यवस्थित (Organized) करना होता है। जिसमें आय-व्यय (Income and Expenses), नगद-उधार (Cash Credit), भुगतान (Payment) की गई राशि (Amount) और बैंक (Bank) के विभिन्न खातों (Various Accounts) का रिकॉर्ड उपलब्ध ( Available Record) होता है।

Tally सॉफ्टवेयर (Software) को Tally Solution Pvt.Ltd.  बहुराष्ट्रीय कंपनी (Multinational Company) के जरिए निर्मित (Built) किया गया है। जिसका मुख्यालय बंगलोर में स्थित है तथा Tally कई वर्षों से एक प्रसिद्ध Accounting Software के रूप में लोगों की पहली पसंद रहा है. जिस वजह से अब तक Tally का इस्तेमाल 10 लाख से अधिक बिजनेस कर चुके हैं।

- Advertisement -

अगर ऐसा देखा जाए तो पुरानी बही खाता प्रणाली का स्थान (Book Ledger System Location) Tally Software ने लिया है. जिससे समय, धन तथा ऊर्जा (Money and Energy) दोनों की बचत हुई है।

वैसे तो Tally यूजर फ्रेंडली तथा सरलतम इस्तेमाल के कारण Tally का इस्तेमाल बैंकों, ऑडिटर्स, चार्टेड अकाउंटेंट (Banks, Auditors, Chartered Accountants) जैसे विभिन्न (Different) वित्तीय स्थानों (Financial Places) के साथ ही छोटे स्तर के व्यापार (Small Scale of Business) में इस्तेमाल होता है।

पारंपरिक खाता व्यवस्थित प्रणाली (Traditional Account Management System) में कॉपी, डायरी (Copy, Diary) आदि में पेन-पेंसिल की मदद से खाते का रिकॉर्ड व्यवस्थित (Organize Records) किया जाता था।

जिसे हम “कागज़ी रिकॉर्ड (Paper record)” भी कह सकते हैं। लेकिन आज कंप्यूटर (Computer) के इस दौर में Tally सॉफ्टवेयर की मदद से कॉलम, ग्राफ तथा इनबिल्ट कैलकुलेटर से एकाउंट (Accounts with Columns, Graphs and in Built Calculators) को तैयार करना (प्रबंधन कार्य) सरल हो गया है।

Tally में व्यवस्थित डेटा (Organized Data) को लंबे समय तक सहेजना आसान है तथा उस Data को अन्य व्यक्ति या कंपनी के साथ साझा करने में भी आसानी होती थी।

इस Software में पुरानी एकाउंटिंग प्रणाली (Old Accounting System) के मुक़ाबले अनेक सुविधाएं मौजूद (Available) हैं, जिसमें Data को सुरक्षित (Safe) रखने के लिए फ़ाइल (File) में लॉक (Lock) लगा सकते हैं।

अकाउंटिंग (Accounting) में Tally के इस्तेमाल से गणितीय त्रुटियों (Mathematical Errors) से बचा जा सकता है। जिससे यह व्यापार (Business) के प्रबंधन में मदद करता है. जहाँ बहुत अधिक लेखांकन एवं गणना की आवश्यकता (Accounting and Calculation Required) होती है।

Enroll Free Computer Course

अब मैं आपको Tally Software की History के बारे मैं बताऊंगा।

Tally Software को वर्ष 1981 में श्याम सुंदर गोयनका (Shyam Sunder Goenka) और उनके पुत्र भारत गोयनका (Bharat Goenka) के जरिए तैयार किया गया था।

इस अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर (Accounting software) के तैयार करने के पीछे एक मुख्य उद्देश्य (Main Purpose) यह था कि उस वक़्त श्याम सुंदर गोयनका (Shyam Sunder Goenka) एक कंपनी (Company) के मालिक थे।

यह कंपनी प्लांट (Company Plant) और टैक्सटाइल मिलों (Textile Mills) के कच्चे माल (Raw Material) और मशीनों (Machine) के पुर्जो (Parts) की आपूर्ति (Supply) करती थी. उस वक़्त श्याम सुंदर जी एक ऐसा Software की तलाश में थे जो उनकी कंपनी (Company) में Accounting के कार्यो (Works) को पूरा कर सके।

और उसके बाद उन्होंने अपने बेटे भारत गोयनका के साथ सॉफ्टवेयर के विचार (Idea) को साझा (Share) किया। भारत गोयनका जिन्होंने गणित (Mathematics) में स्नातक (Math Graduate) शिक्षा प्राप्त की थी. उनके पिता ने उन्हें ऐसा सॉफ्टवेयर बनाने के लिए कहा जो उनकी कंपनी में वित्तीय कार्यों  (Financial Functions) का प्रबंधन (Management) कर सके।

इस Type के  Accounting Software का पहला वर्जन लॉन्च (Version Launch) किया। वैसे तो यह MS-DOS एप्लीकेशन (Application) के रूप में कार्य (Work) करता था। इस Version को “प्युट्रॉनिक्स (Peutronics)” नाम दिया गया जिसमें केवल कुछ सीमित फ़ीचर्स (Features) ही मौजूद (Available) थे।

सन 1999 में कंपनी (Company) ने इस नाम को औपचारिक रूप (Formal Form) से बदलकर Tally Solutions रख दिया. वर्ष 2006 में कंपनी ने Tally 8.1 तथा Tally 9 Version लॉन्च किए गए। 2009 में Tally Solution ने Tally.ERP 9 बिज़नेस मैनेजमेंट सोलुशन (Business Management Solution) के रूप (Form) में लॉन्च (Launch) किया।

साल 2015 में Tally Solution ने टैक्सेशन (Taxation) और कंप्लायंस फ़ीचर्स (Compliance Features ) के साथ Tally.ERP 9 5.0 Version लॉन्च (Launch) किया। और हाल ही में कंपनी के जरिए अपडेटेड (Updated) GST (गुड्स एंड सर्विस टेक्स्ट, Goods and Service Tax) अनुपालन सॉफ्टवेयर लॉन्च (Compliance Software Launch) हैं।

अब मैं आपको Tally की Key Features के बारे मैं बताऊंगा।

Tally मल्टी-यूज़र सॉफ्टवेयर (Multi-User Software) है। यह एक Tally सॉफ्टवेयर में कई यूजर्स (Users) काम कर सकते हैं. जिससे नए यूज़र (New User) को किसी विशेष कंप्यूटर सिस्टम (Special Computer System) की आवश्यकता नहीं होती है।

Tally Software की पूरी जानकारी और इस सॉफ्टवेयर की कार्य-प्रणाली को सीखने के बाद कोई भी व्यक्ति किसी भी कंपनी में अकाउंटिंग कार्य हेतु नौकरी के लिए आवेदन (Apply) कर सकता है अर्थात विद्यार्थी भी बिना ग्रेजुएशन की डिग्री के टैली सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इस क्षेत्र ने कई प्रकार फ्रीलॉसिंग जॉब (Freelancing Job) लोगों को उपलब्ध करने में मदद की है. फाइनेंस मैनेजर, फाइनेंस एडवाइजर, पब्लिक अकाउंटेंट (Finance Manager, Finance Advisor, Public Accountant) आदि और आजकल लगभग सभी कंपनियों को एक अकाउंटेंट की आवश्यकता होती है जो उचित रूप से खातों को चला सकें।

Tally Easy-to-Use सॉफ्टवेयर है. Tally Software को इस तरह से डिजाइन (Design) और विकसित (Developed) किया गया है जिससे दैनिक जीवन में और बिजनेस में वित्तीय क्रियाकलापों (Financial Activities) को व्यवस्थित (Organized) किया जा सके।

अधिकतर कंपनियां (Most companies) पैसों के लेन देन का रिकॉर्ड (Record) रखने के लिए टैली सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करती हैं, जिससे ये जाहिर होता है कि आने वाले वक़्त में Tally की मांग बढ़ती ही जाएगी।

Enroll Free Computer Course

आशा है आपको इस ब्लॉग में Tally ERP 9 की जानकारी मिली होगी और ऐसे ही ब्लॉग पड़ने के लिए निचे दिए गए लिंक्स पे क्लिक करे |
- Advertisement -
Avatar
Satish Dhawalehttp://learnmorepro.com
Satish Dhawale has 14 years experience as Computer Trainer. He is a Successful YouTuber having 7+ YouTube Channels. Recently He founded LEARN MORE PRO (Website) and MAZA COURSE (Android Application), Educational Platform for online computer courses with at fair and cheap price in regional Hindi And Marathi languages.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Form 16 क्या है?

What is Form 16 and why is it important explained in Hindi? दोस्तों आपने कहीं न कहीं Form 16 के बारे सुना ही होगा, यह...
- Advertisment -

Popular

टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के लिए ये सात टिप्स

टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के लिए ये सात टिप्स | Typing tips to increase speed  आजकल हर कोई कंप्यूटर में जॉब करना चाहता है ?, पर...

31 Excel Powerful Formulas

31 Excel Powerful Formulas Explain in Hindi इस ब्लॉग में वो ३१ फार्मूला है एक्सेल के जो हमे हर ऑफिस यूज़फुल होते है तो इन...

MSCIT Theory Questions Marathi – Part 3

प्रश्न १. मॉनिटरच्या स्क्रीनवरील एखाद्या प्रतिमेच्या आऊटपुटला नेहमी सॉफ्टकॉपी म्हटले जाते.       चूक       बरोबर उत्तर तपासा ! प्रश्न २. हेडफोन ही एक...

Hindi, Marathi typing ISM Software Free download

Hindi, Marathi typing ISM Software Free download अगर हिंदी  या मराठी टाइपिंग सीखना चाहते हो  इसके लिए आपको एक सॉफ्टवेयर आपने लैपटॉप या कंप्यूटर में...

Video Editing Tutorial Download Files

Video Editing Tutorial Download Files तो सभी फाइल्स डाउनलोड के लिए निचे दिए गए लिंक्स पे क्लिक कर सकते है और निचे टॉपिक्स भी दिए...
- Advertisment -

Technology

Personalize

Windows 10 के 12 Personalize Tips हिन्दी मे।

क्या आप भी अपने कंप्युटर मे विंडोज़ 10 का उपयोग करते है? जी हाँ बिल्कुल करते ही होंगे क्युकी आज के समय मे विंडोज़...
WhatsApp

बिना मोबाइल नंबर सेव किये WhatsApp पे मैसेज भेजे

दोस्तों WhatsApp आज के समय में एक ऐसा App है। जो हर कोई अपने मोबाइल में इस्तेमाल करता है। इसे चाहे दोस्तों को मैसेज...
What is Domain Name

Domain Name क्या होता है?

What is Domain Name explained in Hindi? नमस्कार दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम Domain क्या है और इसका उपयोग क्यों होता है? यह...
Whats-App Trick

WhatsApp Texting Tips and Tricks in Hindi

WhatsApp में किसी Text को bold कैसे करे? | How to make text bold in WhatsApp explained in Hindi? WhatsApp एक बिल्ट-इन फीचर के साथ...
Lost Mobile phone

मोबाइल खो जाने पर क्या करे?

How to find or lock lost Mobile Phone? अक्सर हमारे साथ ऐसा होता है, जब हमने अपना फोन किसी स्थान पर खो दिया है...
- Advertisment -