Learn More

Tally मे Sales Entry को कैसे करें? | Sales Entry in Tally Prime in Hindi | Tally Tutorial 2022

Tally मे Sales Entry को कैसे करें? | Sales Entry in Tally Prime in Hindi | Useful Tally Tricks 2022

दोस्तों, इस आर्टिकल मे मैं आपको Tally मे Sales Entry को कैसे करते है और Sales Entry के लेनदेन को Tally (Sales Entry in Tally Prime in Hindi) मे कब रिकार्ड करते है ये सिखानेवाला हूँ।

यदि आपका खुद का बिजनस है और आप बिजनस के लिए Tally का इस्तेमाल कर रहे है या फिर आप किसी कंपनी मे Tally पे काम कर रहे है और आप ये जानना चाहते है कि Tally मे Sales एंट्री को कब और कैसे किया जाता है? तो आप बिल्कुल सही जगह पे है।

इस आर्टिकल मे मैं आपको Tally मे Sales Entry के बारे मे विस्तार से जानकारी देने वाला है। चाहे आप Tally ERP 9.0 का इस्तेमाल कर रहे है या फिर Tally Prime।

टैली प्राइम क्या है? | What Is Tally Prime In Hindi?

अगर आपको ये नहीं मालूम कि tally Prime क्या है तो मैं आपको बताऊँ, टैली प्राइम एकाउंटिंग सॉफ्टवेर (Tally Prime Accounting Software) है। जोकि Tally.ERP 9 का न्यू अपडेट (New Updated) Version है। Tally.ERP 9 रिलीज़ (Release) 6.6.3 काफी ज्यादा (Much More) इस्तेमाल किया गया। और अभी भी Tally.ERP 9 के Release 6.6.3 काम करना काफी ज्यादा आसान है।

Tally Prime पे हमने एक पूरी डीटेल मे आर्टिकल को लिखा है जिसकी लिंक आपको नीचे मिल जाएगी। यदि आप Tally Prime के बारे मे जानना चाहते है तो इसे जरूर पढे।

What Is Tally Prime In Hindi? | Tally Prime क्या है और इसके New Feature क्या है? Useful Tally Tutorial – 2022

What is Sales entry in Hindi? | Sales entry क्या है?

चाहे कोई भी बिजनस हो उसमे प्रॉफ़िट कमाने के लिए कुछ न कुछ समान या सेवाएं (Goods or Services) बेची जाती है।

जब हम बिजनस मे कोई सामान या सेवाएं (Goods or Services) बेचते है, तो उसे हम दो तरीकों से बेच सकते है, या तो हम उन सामान या सेवाएं (Goods or Services) को नकद (Cash) मे बेचते है या फिर उधारी (Credit)।

किसी बिजनस को रिपोर्ट बनाने और हर एक लेनदन का रिकार्ड रखना होता है। जैसे जब हम कोई बिक्री लेनदेन (Sales Transaction) करते है तो हमे नीचे दिए लेनदेन आदि का रिकॉर्ड रखना होगा:

  • बेची गई वस्तुओं (Sales Goods or Services)
  • प्राप्त किए गए भुगतानों (Payment Received for Sales)
  • ग्राहकों द्वारा लौटाए गए सामानों (Sales Return from Customer)

टैली का उपयोग करके (चाहे आप Tally ERP 9.0 इस्तेमाल करे या Tally Prime का इस्तेमाल करे) आप इन सब और इसके अलावा बहुत सारे काम आसानी से कर सकते हैं।

साथ ही Tally मे आप अपने बिजनस मे सभी खरीदारियों और बिक्री के रिपोर्ट को आसानी से देख सकते है और उनका कॉम्परिजन भी कर सकते है।

Record Sales Entry in Tally Prime in Hindi

Tally मे आप चाहे नकद (Cash) या उधारी (Credit) पर बिक्री करें, दोनों की एंट्री दर्ज करने का प्रोसेस लगभग समान ही होते हैं।

बस अंतर केवल इतना होता है कि जब आप नकद बिक्री (Sales on Cash) कर रहे है तो उसकी एंट्री दर्ज करते समय नकद या बैंक को डेबिट (Dr – Debit) करना होता है

और जब आप उधारी कोई बिक्री (Sales on Credit) करते है ,तो आपको Customer A/C (ग्राहक खाता) को डेबिट (Dr – Debit) करना होता है।

Tally मे Sales Entry के लिए हम Sales Voucher का उपयोग करते है। Sales Voucher मे Sales entry के लिए Item Invoice mode और Accounting Invoice mode इन दो मोड का इस्तेमाल कर सकते है।

Item Invoice mode in Sales Entry in Tally Prime in Hindi

Item Invoice mode : जब हम कोई आइटम की बिक्री करते है और उन्हे एंट्री मे रिकार्ड करना चाहते है, तब हम इस Item Invoice Mode का उपयोग करते है। इस मोड का उपयोग करते समय आपको एक बात का ध्यान देना है कि बेची गयी वस्तुओं की संख्या और प्रति दर की कीमत होनी चाहिए।

Sales Voucher का मोड Item Invoice mode बदलने के लिए हम Gateway of Tally > Voucher > F8 – Sales > CTRL + H or Change mode > Item Invoice मे जाएंगे। और निम्न प्रकार की जानकारी रिकार्ड करेंगे।

Dateआप F2 का उपयोग करके Date (दिनांक) को बदल सकते है। (Note: Date को आप Educational Mode में १,२, और ३१ ही रख सकते है।) 
Party A/c NameParty A/c के Ledger को चुने। जिसे आपने वस्तु या माल उधारी बेची है।
Sales LedgerSales Ledger को चुने।
Nature of Itemवस्तु या माल की जानकारी दे।
Quantityबेचीं गयी वस्तुओं की संख्या (Quantity) बताए।
Rate (Per)Rate Per (प्रति दर) की जानकारी दे।
Amountयह स्वचालित (Automatically) रूप से आ जाएगा।
Narrationआपको Narration (आख्‍यान) बताना है जिससे आपको बाद में पता चल सके कि यह एंट्री किस Transaction की है।
Acceptअंत में आपको Entry (एंट्री) को Accept करना है। आप Enter या Y का उपयोग कर सकते है।
Item Invoice mode in Sales Entry in Tally Prime in Hindi | Tally मे Sales Entry

Accounting Invoice mode in Sales Entry in Tally Prime in Hindi

Accounting Invoice mode: जब बिना आइटम के बिक्री की एंट्री को रिकार्ड करना चाहते है तब हम Accounting Invoice Mode का इस्तेमाल करते है।

इस मोड का उपयोग ज्यादातर सेवा (Services) देते समय या सेवा प्रदान करनेवाली कॉम्पनियों द्वारा किया जाता है।

इस मोड एक्सेस करना के लिए Gateway of Tally > Voucher > F8 – Sales > CTRL + H or Change mode > Accounting Invoice मे जाए।

और निम्न प्रकार की जानकारी रिकार्ड करेंगे।

Dateआप F2 का उपयोग करके Date (दिनांक) को बदल सकते है। (Note: Date को आप Educational Mode में १,२, और ३१ ही रख सकते है।) 
Party A/cParty Name के Ledger को चुने जिससे आपने वस्तु या माल उधारी ख़रीदा है
ParticularsParticular में आपको सिर्फ Credit होने वाले Ledger Account को सेलेक्ट करना है और Amount (राशि) को दर्ज करना है । यहाँ आप एक से ज्यादा Ledger Account सेलेक्ट कर सकते हो । ये ज्यादातर Sales ledger ही होता है ।
Rate (Per)Rate Per (प्रति दर) की जानकारी दे ।
Amountयहाँ पे राशि डालना है ।
Narrationआपको Narration (आख्‍यान) बताना है जिससे आपको बाद में पता चल सके कि यह एंट्री किस Transaction की है ।
Acceptअंत में आपको Entry (एंट्री) को Accept करना है। आप Enter या Y का उपयोग कर सकते है।
Accounting Invoice mode in Sales Entry in Tally Prime in Hindi | Tally मे Sales Entry

यदि आपको आवश्यक हो तो आप Purchase की रिकार्ड की गई एंट्री को प्रिंट भी कर सकते हैं।

Tally मे Sales Entry को रिकार्ड करे

चलिए अब Sales entry को रिकार्ड करके देखते है:

Sales Entry: Computer Mouse (10 QTY Per 2000) & Monitor (5 QTY Per 3000) sold to Verma & CO on Credit.

अब ऊपर दी गई एंट्री मे हम 10 कंप्युटर माउस 2000 प्रति दर और 5 मानिटर 3000 प्रति दर से Verma & Co को उधारी बेच रहे है। तो अब इसकी एंट्री को Sales Voucher मे दर्ज करेंगे।

  • Sales Voucher का उपयोग करने के लिए: हम Gateway of Tally > Voucher > Shortcut: F8 – Sales मे जाए।
  • या फिर Tally Prime मे आप Alt + G (Go To)Create Voucher > F8 (Sales) से भी Purchase Voucher मे जा सकते है।
  • अब हमे Sales Entry की मोड को चुनना है।
  • ऊपर दी एंट्री को रिकार्ड करने के लिए हम Item Invoice mode का इस्तेमाल करेंगे कक्यूंकि यहाँ हम Mouse और Monitor जैसे आइटम की बिक्री कर रहे है।
  • Sales Voucher का मोड बदलने के लिए हम Gateway of Tally > Voucher > F8 – Sales > CTRL + H or Change mode > Item Invoice मे जाएंगे।
  • और ऊपर दिए गए लेनदेन की एंट्री कुछ इस तरह से रिकार्ड करेंगे।
Tally मे Sales Entry को कैसे करें? | Sales Entry in Tally Prime in Hindi
Tally मे Sales Entry को कैसे करें? | Sales Entry in Tally Prime in Hindi

चलिए देखते आखिर इस एंट्री को रिकार्ड करने के लिए हमने क्या क्या किया?

Dateआप F2 का उपयोग करके Date (दिनांक) को बदल सकते है। (Note: Date को आप Educational Mode में १,२, और ३१ ही रख सकते है।) 
Party A/c NameParty A/c के Ledger को चुने। जिसे आपने वस्तु या माल उधारी बेची है। तो हमने यहाँ Verma & Co के ledger को चुना है जिसे हमने समान बेचा है।
Sales LedgerSales Ledger को चुने।
Nature of Itemवस्तु या माल की जानकारी दे। यहाँ हमने Computer Mouse और Monitor को चुना है।
Quantityबेचीं गयी वस्तुओं की संख्या (Quantity) बताए। यहाँ हमने Computer Mouse को 10और Monitor को 5 क्वानटिटी इंटर किया है।
Rate (Per)Rate Per (प्रति दर) की जानकारी दे। यहाँ हमने Computer Mouse को 2000 और Monitor को 3000 Rate Per (प्रति दर) इंटर किया है।
Amountयह स्वचालित (Automatically) रूप से आ जाएगा।
Narrationआपको Narration (आख्‍यान) बताना है जिससे आपको बाद में पता चल सके कि यह एंट्री किस Transaction की है।
Acceptअंत में आपको Entry (एंट्री) को Accept करना है। आप Enter या Y का उपयोग कर सकते है।
Tally मे Sales Entry को कैसे करें? | Sales Entry in Tally Prime in Hindi

Tally मे Sales Entry के बाद बिल प्रिन्ट करें

अगर आप Sales Voucher मे एंट्री रिकार्ड करने के बाद Sales Bill का print निकालना चाहते है तो आप Sales Voucher मे CTRL + P से Sales Bill का प्रिन्ट निकाल सकते है।

Tally मे Purchase Entry को कैसे करें? | Purchase Entry In Tally Prime In Hindi

दोस्तों अगर आप Tally मे Purchase Entry को रिकार्ड करना सीखना चाहते है तो आप नीचे दिए ब्लॉग को जरूर पढे।

Tally मे Purchase Entry को कैसे करें? | Purchase Entry In Tally Prime In Hindi | Useful Tally Tricks 2022

Beginner To Advance Course For Tally Prime In Hindi (50% To 60% OFF)

What is Tally Prime in Hindi
What is Tally Prime in Hindi? | Tally Prime क्या है और इसके New Feature क्या क्या है?

Tally Prime with Online GST Returns Filing Course from Beginners to Advance : Language: Hindi

क्या आप भी Tally Prime in Hindi सीखना चाहते है? तो आपको इस कोर्स को जरूर एनरोल करना चाहिए है। इस Course मे आपको निम्न टॉपिक को सीख सकते है।

  • Tally Prime क्या है?
  • Fundamental of Accounting in Hindi
  • Download and Install Tally Prime in Hindi
  • Company in Tally Prime in Hindi
  • Groups in Tally Prime in Hindi
  • Ledgers in Tally Prime in Hindi
  • Purchase Entry in Tally Prime in Hindi
  • Sales Entry in Tally Prime in Hindi
  • Vouchers in Tally Prime in Hindi
  • Cost Center in Tally Prime in Hindi
  • Purchase और Sales से जानकारी और एंट्री Tally Prime in Hindi मे
  • TDS से जुड़ी जानकारी और एंट्री Tally Prime in Hindi मे
  • GST से जुड़ी जानकारी और एंट्री Tally Prime in Hindi मे
  • E-Way Bill से जुड़ी जानकारी और एंट्री Tally Prime in Hindi मे
  • Manufacturing और Service कंपनी से जुड़ी जानकारी और एंट्री Tally Prime मे
  • Payroll से जुड़ी जानकारी और एंट्री Tally Prime in Hindi मे

Course: Tally Prime With GST Returns (in Hindi)

Frequently Asked Questions | सामान्यतःपूछे जाने वाले प्रश्न

टैली क्या है?

टैली अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर है जिसे बिक्री, वित्त, निर्माण, खरीद और इन्वेंट्री जैसे आपके सभी व्यावसायिक कार्यों को स्वचालित और एकीकृत करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

आसानी से टैली कैसे सीख सकते हैं?

आप हमारे नीचे दिए गए प्लेटफॉर्म से आसानी से टैली सीख सकते हैं:
यूट्यूब चैनल से सीखे: Tally Tutorial
ब्लॉग सीखे: https://learnmoreindia.in/category/tally-tips/
हमारा टैली कोर्स चेक करें: टैली प्राइम फुल कोर्स

टैली कोर्स क्या है?

टैली मूल रूप से एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर है जो छोटे और बड़े उद्योगों द्वारा लेखांकन उद्देश्यों के लिए व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है यह एक लेखा सॉफ्टवेयर है जहां सॉफ्टवेयर की सहायता से सभी बैंकिंग और लेखा परीक्षा, लेखा कार्य किए जाते हैं।
Tally Course from Beginners to Advance : Language: Hindi

टैली प्राइम और टैली ERP9.0 में क्या अंतर है?

टैली प्राइम और टैली ERP मे अंतर जानने के लिए हमारा यह यह विडिओ देखें।

टैली प्राइम और टैली ERP9.0 में क्या अंतर है?

टैली में गोल्डन रूल क्या है?

टैली मे गोल्डन रूल को सीखने के लिए हमारा यह 3 Golden Rules Of Accounting Explained In Hindi ब्लॉग पढे, जहां हमने पूरी डीटेल जानकारी दी है।

क्या टैली सीखना मुश्किल है?

नहीं, टैली सीखना कठिन नहीं है। यदि आप लेखांकन की मूल बातें जानते हैं तो यह एक साधारण लेखा सॉफ्टवेयर है। … जीएसटी के आने के बाद, टैली कुछ बदलावों के साथ विकसित हुआ है, इसलिए आपको उद्योग से संबंधित पाठ्यक्रम के साथ एक प्रतिष्ठित संस्थान से उन्नत तकनीकों को सीखने की जरूरत है। टैली को लोकप्रिय रूप से एक अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर के रूप में जाना जाता है।

टैली का आविष्कार किसने किया?

भारत गोयनका ने बिना किसी कोड के ‘द अकाउंटेंट’ नामक एक अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर विकसित किया। उन्होंने और उनके पिता ने मिलकर 1986 में Peutronics की शुरुआत की – 1988 से इसका नाम बदलकर Tally कर दिया गया। नवीनतम संस्करण Tally 9 है जो दुनिया का पहला समवर्ती बहुभाषी व्यापार लेखा और सूची सॉफ्टवेयर है।

टैली के फ्री नोट्स कहाँ से डाउनलोड कर सकते है?

यदि आप टैली से जुड़े नोट्स फ्री मे पाना चाहते है तो हमारा Telegram Channel: Learn More जॉइन करे।

टैली के फ्री टेस्ट कहाँ दे सकते है?

यदि आप टैली के बारे मे अपना ज्ञान जाँचना चाहते है तो इस लिंक पे जाके क टैली के फ्री टेस्ट दे सकते है। https://learnmoreindia.in/category/online-test/tally-online-test/

Conclusion: आपने क्या सीखा?

इस आर्टिकल मे आपने Tally मे Sales Entry को कैसे रिकार्ड करते है (Sales Entry in Tally Prime in Hindi)? और इसके अलावा आपने Tally मे Sales Entry के लिए कितने Sales mode मे एंट्री कर सकते है यह भी जाना।

इसके अलावा Sales Voucher मे Sales Entry रिकार्ड करने समय किन किन बातों और चीजों की जानकारी रिकार्ड करनी होती है उसकी भी जानकारी सीखी। मुझे उम्मीद है कि आपकी Tally मे Sales Entry (Sales Entry in Tally Prime in Hindi) को लेके जितनी दुविधा थी वो समाप्त हो गई होगी।

नीचे मैं Tally से जुड़े कुछ आर्टिकल आप लोगों के लिए दे रहा हु, इन्हे भी जरूर पढे:

Spread the love

Leave a Comment