Learn More

What is Conditional formatting in excel in hindi?

यदि आप एक excel यूजर तो आपने Excel मे Conditional formatting के बारे मे जरूर सुना होगा।

लेकिन क्या आप मालूम है Excel में Conditional formatting क्या है और इसका इस्तेमाल क्यूँ किया जाता है?

अगर नहीं, तो कोई बात नहीं। चलिए मैं बता देता हु।

Excel मे Conditional Formatting का उपयोग आपकी Condition के आधार पर किसी Range में Cells की formatting को बदलने के लिए किया जाता है।

Excel में Conditional Formatting एक शक्तिशाली और उपयोगी फ़ीचर है जो आपको स्प्रेडशीट में डेटा को विभिन्न प्रमाणों और शर्तों के अनुसार रंग, फ़ॉर्मेट या सेल के शैली से हाइलाइट करने की स्वतंत्रता प्रदान करता है।

कुछ महत्वपूर्ण Conditional Formatting निर्देशिकाएँ हैं:

  1. Cell Color: आप डेटा के मूल्यों के आधार पर सेल का रंग बदल सकते हैं। उदाहरण के लिए, आपको सभी सेलों में जिनकी मूल्य 50 से ऊपर है, को हरा कर सकते हैं।
  2. Icon Set: आप आइकन का उपयोग करके विशेष मानों को चिह्नित कर सकते हैं, जैसे कि तारीख के अनुसार जन्मदिन, महत्वपूर्ण तारीख, आदि।
  3. Data Bars: आप एक सेल में डेटा की गति को दर्शाने के लिए डेटा बार्स का उपयोग कर सकते हैं।
  4. Cell Conditions: आप निर्दिष्ट शर्तों के लिए सेल को हाइलाइट कर सकते हैं, जैसे कि मानों की तुलना, ज्यादा या कम मान, आदि।

इन Conditional Formatting विकल्पों के माध्यम से, आप अपने डेटा को समझने में और सहज बना सकते हैं, जिससे आपकी काम की गति में वृद्धि होती है।

Excel मे Conditional formatting यह ऑप्शन होम टैब (HOME TAB) में होता है और आप इसके जरिये डाटा को अलग अलग तरीके से रिप्रेजेंट कर सकते है उसके लिए आपको बस डाटा रेंज सेलेक्ट करनी है और अपनी condition के आधार पे formatting सेट करनी है।

Home Tab > Conditional Formatting
Home Tab > Conditional Formatting

निचे आपको Excel मे Conditional Formatting को इस्तेमाल करने के स्टेप्स दिए गए है


“Highlight Cells Rule” एक एक्सेल के शर्ती फॉर्मैटिंग में एक विशेषता है जो आपको निर्दिष्ट शर्तों या मानकों के आधार पर सेल को हाइलाइट करने की अनुमति देती है। यह सुविधा आपको अपने स्प्रेडशीट के भीतर निश्चित डेटा बिंदुओं या प्रवृत्तियों पर ध्यान खींचने में मदद करती है।

यहाँ कुछ सामान्य प्रकार की हाइलाइट सेल नियम हैं:

Highlight Cells Rules in conditional formatting
  1. Greater than OR Less than (अधिक या कम): आप एक निर्दिष्ट संख्या से अधिक या कम मान वाली सेल को हाइलाइट कर सकते हैं।
  2. Equal To (बराबर): यह नियम उन सेलों को हाइलाइट करता है जो आप निर्दिष्ट मान के बराबर होते हैं।
  3. Between (मध्यम): आप उन सेलों को हाइलाइट कर सकते हैं जो निर्दिष्ट मानों के बीच होते हैं।
  4. Text Contains (टेक्स्ट जो शामिल है): यह नियम विशेष टेक्स्ट या वर्णों को शामिल करने वाली सेलों को हाइलाइट करता है।
  5. Duplicates Value (डुप्लिकेट मान): आप सेलों को हाइलाइट कर सकते हैं जो एक ही मान को बार-बार दिखाते हैं।
  6. अद्वितीय मान: यह नियम विशिष्ट सीमा के भीतर अद्वितीय मानों को हाइलाइट करता है।
  7. Date (तिथि होना): आप निर्दिष्ट समयावधि में तिथियों को हाइलाइट कर सकते हैं, जैसे कि आज, कल, पिछले सप्ताह, आदि।
  8. शीर्ष/निचले स्थिति वाले मान: शीर्ष/निचले स्थिति नियमों के समान, आप एक सीमा के भीतर शीर्ष या निचले स्थिति में रहने वाले मानों को हाइलाइट कर सकते हैं।

हाइलाइट सेल नियम का उपयोग करके, आप अपने एक्सेल स्प्रेडशीट में महत्वपूर्ण डेटा बिंदु, विस्तार, प्रवृत्ति, या रूपरेखा को सुरक्षित रूप से पहचान सकते हैं।

Excel Conditional Formatting in Hindi

Top/Bottom Rules Excel के Conditional Formatting के एक प्रकार हैं जो आपको डेटा की श्रेणी में शीर्ष या निचले आधारभूत विवेक के अनुसार सेलों को हाइलाइट करने की स्वतंत्रता प्रदान करते हैं।

इन निर्देशिकाओं के तहत, आप आपके डेटा के सबसे बड़े या सबसे छोटे मानों को पहचान सकते हैं और उन्हें सेल के रूप में विशेष रूप से फ़ॉर्मेट कर सकते हैं।

Top Bottom Rules in conditional formatting

कुछ प्रमुख Top/Bottom Rules:

  1. Top 10 Items: इस निर्देशिका के तहत, आप आपके डेटा के शीर्ष 10 मानों को हाइलाइट कर सकते हैं।
  2. Bottom 10 Items: इस निर्देशिका के तहत, आप आपके डेटा के निचले 10 मानों को हाइलाइट कर सकते हैं।
  3. Above Average: यह निर्देशिका आपको डेटा के माध्यम से बड़े मानों को हाइलाइट करने की अनुमति देती है जो औसत से अधिक होते हैं।
  4. Below Average: इस निर्देशिका के तहत, आप डेटा के औसत से कम मानों को हाइलाइट कर सकते हैं।

इन Top/Bottom Rules का उपयोग करके, आप अपने डेटा के अनुसार विशेष विवेक और प्राथमिकताओं को आसानी से पहचान सकते हैं और उसे समझ सकते हैं।

C) Color Scale

“Color Scale” Excel के Conditional Formatting का एक प्रकार है जो डेटा के मानों की गुणवत्ता को दर्शाने के लिए विभिन्न रंगों का उपयोग करता है।

यह फ़ीचर आपको आपके डेटा के अंदर चुने गए मानों की तुलना करने में मदद करता है और आपको डेटा की अनुभूति में बदलावों को देखने में सहायक होता है।

कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएँ:

  1. उत्कृष्टता के लिए रंगों का उपयोग: डेटा के मानों के लिए अलग-अलग रंगों का उपयोग करके आप उनकी उत्कृष्टता को दर्शा सकते हैं।
  2. अधिक/कम मानों के लिए रंगों का उपयोग: यह आपको डेटा के सबसे अधिक और कम मानों को पहचानने में मदद कर सकता है।
  3. कस्टम स्केल्स: आप अपनी पसंदीदा रंग स्केल को चुन सकते हैं या खुद ही एक निर्दिष्ट रंगों की स्केल तैयार कर सकते हैं।
  4. बदलते डेटा के साथ तारीख का उपयोग: जब आपका डेटा बदलता है, तो रंगों का उपयोग करके आप उसमें हो रही प्रमुख परिवर्तनों को आसानी से देख सकते हैं।

“Color Scale” का उपयोग करके, आप अपने डेटा के विविध पहलुओं को गहराई से समझ सकते हैं और विश्लेषण कर सकते हैं।

D) Icon Set

“Icon Set” Excel के Conditional Formatting का एक प्रकार है जो डेटा के मानों को दर्शाने के लिए आइकनों का उपयोग करता है। इस फीचर का उपयोग करके, आप विभिन्न शर्तों के अनुसार आपके डेटा के मानों को आसानी से पहचान सकते हैं।

Icon Set in conditional formatting

कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएँ:

  1. विभिन्न आइकन सेट: Excel में कई प्रकार की आइकन सेट होती हैं, जैसे कि तिरंगुल, सितारा, ध्वज, आदि।
  2. आइकन सेट की पूर्वनिर्धारित संख्या: आप आइकन सेट के संख्या को निर्धारित कर सकते हैं, जिससे Excel डेटा के मानों को उसकी गुणवत्ता के अनुसार बाँट सके।
  3. विविध आइकन: आप विभिन्न प्रकार के आइकनों का उपयोग कर सकते हैं, जैसे कि स्टार, टिक मार्क, तारा, आदि।
  4. गुणवत्ता के आधार पर आइकनों की उपयोगिता: आइकनों का उपयोग करके आप अपने डेटा के मानों की गुणवत्ता को आसानी से समझ सकते हैं, जैसे कि बढ़ती या घटती रेटिंग, समय के साथ परिवर्तित होने वाले मान, आदि।

“Icon Set” का उपयोग करके, आप अपने डेटा के मानों को आसानी से विश्लेषण कर सकते हैं और महत्वपूर्ण प्रमुख विवरणों को पहचान सकते हैं।

E) New Rule

इस ऑप्शन में आप अपना फार्मूला देके कंडीशनल फॉर्मेटिंग कर सकते है लेकिन उसके लिए मैंने एक अलग ब्लॉग बनाया है वो जररु पढ़िए लिंक आपको यहाँ पे जल्द ही देता हूँ।

Excel Basic to Advance Level Course in Hindi

इसके अलावा मैं आपको बताऊं अगर आप एक्सेल में बिगनर (Beginner) है या आपने अभी Excel सीखना शुरू किया है या फिर आप एक्सेल सीख रहे हैं और आप Excel में एक्सपोर्ट बनना चाहते हैं।

और Excel के हर एक फार्मूला, फंक्शंस और ऑप्शंस, फीचर्स को एडवांस लेवल तक सीखना चाहते हैं, तो मैं आपको हमारी जो लर्निंग प्लेटफॉर्म है Skill Course पर जरूर जाना चाहिए।

जहां पर आप को एक्सेल का एक Excel Basic to Advance Level का कोर्स मिलेगा।  यह बहुत ही एडवांस लेवल का कोर्स है जिसमें आप एक्सेल के हर एक फीचर्स को बारीकी के साथ और हर एक फार्मूला फंक्शंस को प्रैक्टिस फाइल के साथ सीखते हैं।

फिलहाल अभी यह कोर्स डिस्काउंट में चल रहा है तो आप जरूर जाएं और एक बार वेबसाइट पर जाकर Excel बेसिक एडवांस कोर्स को जरूर चेक करें।  

इससे आप Excel में एक्सपोर्ट ही नहीं बल्कि सुपरफास्ट भी बनते हैं जिसमें आप Pivot, कंडीशनल फॉर्मेटिंग, फार्मूला, फंक्शंस जैसी पूरी डिटेल एक ही जगह के साथ सीखते हैं।  

Also Read: What Is MS Excel In Hindi? | MS Excel क्या है?

Video 1: Master way to use Excel Conditional formatting

Master way to use Excel conditional formatting | Excel tips and tricks in Hindi 2020

Video 2: Conditional formatting of Excel explain in Hindi

Conditional Formatting in Excel || Conditional formatting of Excel explain in Hindi

निष्कर्ष: आपने क्या सीखा?

दोस्तों इस आर्टिकल मे आपने Excel से Conditional Formatting के बारे मे सीखा।

मैं उम्मीद करता हु आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। इसी तरह अलग अलग प्रकार की जानकारी पाने के लिए आप हमारे Blogs की केटेगरी भी चेक कर सकते है जिसमे आपको ComputerMS OfficeTally जैसे अलग अलग टॉपिक के बारे मे जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Spread the love

1 thought on “What is Conditional formatting in excel in hindi?”

Leave a Comment

4 Most effective Laptop Touchpad Tips What is Basic Computer Course (BCC) course in Hindi? How to hide WIFI Name of our Router in Hindi? 10 useful website for graphic user in hindi Mouse Setting की ये tricks आपको नहीं पता, तो सब बेकार हैं।
4 Most effective Laptop Touchpad Tips What is Basic Computer Course (BCC) course in Hindi? How to hide WIFI Name of our Router in Hindi? 10 useful website for graphic user in hindi Mouse Setting की ये tricks आपको नहीं पता, तो सब बेकार हैं।