Domain Kya Hota Hai Aur Blogging Ke Liye Kyu Jaruri Hai?

Domain Kya Hota Hai Aur Blogging Ke Liye Kyu Jaruri Hai?
Domain Kya Hota hai

What is Domain in Hindi? | How can Domain Help you in Bogging?

आज के इस ब्लॉग में हम Domain Kya Hota Hai यह सीखने वाले है और इसका उपयोग Blogging मे क्यू जरूरी है वह भी जानेंगे। और Domain के अलावा Domain Kya kaam karta hai, Domain Kyu Kharidna chahiye, Domain kahan se kharide Domain Registrar Kya hai से जुड़े कुछ जरूरी बातें भी जानेंगे।

पिछले नवीनतम ब्लॉग्स मे हमने ब्लॉगिंग से जुड़ी ढेर सारी जानकारी प्रदान की थी। जो आपको एक प्रोफेशनल ब्लॉगर बनने के लिए जरूरी होती है। आप भी ब्लॉगिंग करना चाहते है तो आपको भी वो सभी जानकारी होनी चाहिए इसीलिए आपको नीचे बताए ब्लॉग्स को जरूर पढ़ना चाहिए।

इसके पहले हमने Blogging से जुड़े कुछ ब्लॉग पहले ही लिख चुके है यदि आपने इन्हे अभी तक नहीं देखा है तो जरूर देखे।

Blogging Kya Hai? Jisse Har Mahine 40 Hajar Tak Kama Rahen Hain Blogger| ब्लॉगिंग क्या है?
Top 5 Best Blogging Platforms In Hindi | Blogging Ke Liye 5 Best Blogging Platform

Domain Kya Hota Hai को समझने से पहले हमे यह समझना होगा कि Internet Kya Hai और Internet Kaam Kaise Karta Hai?

Internet Kya Hai? | What is Internet in Hindi?

इंटरनेट (Internet) एक विशाल नेटवर्क है, जो दुनिया भर के कंप्यूटरों को जोड़ता है। इंटरनेट के माध्यम से, लोग इंटरनेट कनेक्शन के साथ कहीं से भी कोई भी जानकारी साझा कर सकते हैं और उसका संचार कर सकते हैं।

अगर सीधे शब्दो में कहे, तो Internet, IP Address के जरिये एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में कम्यूनिकेट (Communicate) करने या डाटा को टांस्फर (Transfer) करने का तरीका है। 

IP address Kya Hai? | What Is IP address In Hindi?

एक Internet Protocol Address [इंटरनेट प्रोटोकॉल (आईपी) पता] संख्याओं की एक श्रृंखला है जो इंटरनेट नेटवर्क पर किसी विशेष डिवाइस के भौतिक स्थान (Physical Location) की पहचान करता है। IP Address कुछ इस तरह दिखता है: 74.125.19.147

Domain Kya Hota Hai? | What Is Domain In Hindi?

Domain Kya Hota Hai: IP Address (Internet Protocol) का सरलता और आसानी से इस्तेमाल करने के लिए Domain को बनाया गया। IP Address एक तरह का नंबर होता है, जो हर कंप्यूटर को इंटरनेट से जोड़ता है।

Domain Kya Hota Hai
Domain Kya Hota Hai

Domain Name (जिसे अक्सर केवल एक Domain कहा जाता है) याद रखने में आसान नाम है जो इंटरनेट पर एक Physical IP Address (भौतिक आईपी पते) से जुड़ा होता है।

यह अद्वितीय नाम है जो Email Address में @ साइन इन के बाद और Web Address में www के बाद दिखाई देता है। Domain Name के अन्य उदाहरण learnmoreindia.in, learnmorepro.com, google.com और wikipedia.org हैं।

मान लीजिये हमें R-City Mall जाना है जो LBS मार्ग, घाटकोपर मुंबई में है। तो हम मुंबई मे घाटकोपर के LBS मार्ग के जरिये R-City Mall आसानी से जा सकते है।

ठीक उसी तरह जब हम कंप्यूटर से कोई जानकारी इंटरनेट पे ढूढ़ते है तो IP Address यह पता करता है कि इंटरनेट पे कंप्यूटर कहाँ पे है और उसके अंदर कौन सी जानकारी उपलब्ध है जिसे वो आसानी से दिखा सके।

लेकिन IP Address (जैसे  192.176.72.182) यह नंबर में होता है, इसी तरह इंटरनेट पे लाखों करोड़ो बहुत सारी IP Address है जिन्हे हम याद नहीं कर सकते इसलिए IP Address या Internet Protocol का सरलता और आसानी से इस्तेमाल करने के लिए Domain Name का उपयोग किया जाता है।

जब हम कोई Domain Name (जैसे www.learnmoreindia.in) इंटरनेट पे ढूढ़ते है तो DNS (Domain Name System) उसको IP Address (जैसे 192.272.28.46) में बदल देता है, जिससे हमारा कंप्यूटर उसको आसानी से Internet पे ढूढ़ लेता है।  

DNS Kya Hai? | What is DNS (Domain Name System) in Hindi?

यह एक डोमेन नेम सर्वर (Domain Name Server/System), एक सिस्टम होता है, जो Internet Address को स्वचालित रूप से Numeric Machine Address (संख्यात्मक मशीन के पते) में बदल देता है, जिसका उपयोग कंप्यूटर करता है।

जैसे आपने अपने कंप्यूटर में www.learnmoreindia.in को सेर्च किया तो DNS उसको IP Address (मान लीजिये 198.169.23.187) में बदल देगा जिससे कंप्यूटर उसे आसानी से इंटरनेट पे ढूढेंगे और आपके कंप्यूटर ब्राउज़र में www.learnmoreindia.in की वेबसाइट दिखायेगा।

Domain Kya Hota Hai Aur Bloggging ke Liye Domain Kyu Jaruri Hai? | Why Domain is Necessary for Blogging?

Domain Kya Hota Hai: Domain Name, यूआरएल (URL) का एक हिस्सा होता है जिसका उपयोग ब्लॉग (Blog) तक पहुंचने के लिए किया जाता है। यह ब्लॉग (Blog) के नाम से मेल खा सकता है या नहीं भी हो सकता है, लेकिन आमतौर पर यह सिफारिश की जाती है कि Domain Name ब्लॉग (Blog) के नाम से मेल खाता है तो SEO की नजर से वह काफी अच्छा होता है।

जब आप एक ब्लॉग बनाते हैं और उसे अपनी पसंद के होस्टिंग प्रदाता (Hosting Provider) के साथ होस्ट (Host) करते हैं, तो आपको अपने ब्लॉग का Domain Name देना होता है।

कोई भी पूरा URL (यूआरएल) www से शुरू होता है। और उसके बाद Domain Name आता है। यह एक डोमेन एक्सटेंशन (Domain Extension) के साथ समाप्त होता है, जो आमतौर पर .com या .in आदि होते है, लेकिन आप अन्य एक्सटेंशन जैसे .org, .blog, .net, आदि को भी चुन सकते हैं। आप एक Domain Name को Domain Registrar से खरीद सकते है।

Domain Kya Hota Hai

जब आप अपने ब्लॉगिंग के लिए अपने ब्लॉग के अनुसार कोई Domain लेते हो तो वह एक तरह से आपकी ब्रांडिंग होती है। जैसे हमारी वेबसाईट learnmoreindia.in तो यहाँ पे हमारा Learn More ब्रांडिंग है जिससे लोगों को पता चलता है Learn More से ढेर सारी Educational जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

Domain Registrar kya hota hai | What is Domain Registrar in Hindi

डोमेन रजिस्ट्रार (Domain Registrar) एक ऐसी कंपनी है जो ऐसे डोमेन नाम (Domain Name) बेचती है जो अभी तक खरीदी नहीं गई है और उनका स्वामित्व किसी के पास नहीं है और इसलिए वह Domain पंजीकरण के लिए उपलब्ध हैं। इनमें से ज्यादातर कंपनियां डोमेन होस्टिंग (Domain Hosting) भी ऑफर करती हैं।


Spread the love

Satish Dhawale

मुझे कंप्यूटर शिक्षण के क्षेत्र में 14 साल का अनुभव है, मैं NRIT संस्थान में ट्यूटर हूँ जहाँ मैंने 14 वर्षों के अंतराल में 40000 से अधिक छात्रों को कंप्यूटर शिक्षा दी। उसके बाद मैंने अपना YouTube चैनल Learn More शुरू किया, जहाँ लोगों ने मेरी शिक्षण शैली को पसंद किया और उनके प्यार से मैं सफल रहा हूँ। आज मेरे पास 7 यूट्यूब चैनल हैं। मैंने अपनी ब्लॉगिंग वेबसाइट भी शुरू की है जहाँ आप अभी हैं। यहाँ मैं कंप्यूटर, MS Office, Tally, MSCIT, Photoshop आदि के बारे में सभी महत्वपूर्ण और ज्ञानवर्धक जानकारी प्रदान करता हूँ। हमारे शैक्षिक मंच www.learnmorepro.com जहां हम सस्ते दर पर कंप्यूटर कोर्स प्रदान करते हैं।

This Post Has 2 Comments

  1. deshraj

    sir muje apni web. bnani h

Leave a Reply