Tuesday, March 2, 2021

कंप्यूटर नेटवर्क & इंटरनेट हिस्ट्री || Internet History in Hindi

कंप्यूटर नेटवर्क & इंटरनेट हिस्ट्री || Internet History in Hindi

history of internet in hindi

आजकल हर एक ऑफिस में इंटरनेट जरुरी होता है | इसके बिना काम करना तो मुशील ही नहीं नामुनकिन होता है | पर यही इंटरनेट या नेटवर्क की शुरवात कहाँ से और कैसे हुई ये जानने में अगर आप इंटरेस्टेड हो तो चलिए शुरू करते है |

तो सबसे पहले इंटरनेट की शुरुआत (नेटवर्क की शुरवात ) अमेरिका सेना द्धारा अमेरिका के रक्षा विभाग में की गई थी इसका कारन ये था की विश्व युद्ध २ में अमेरिका का जो नुकसान हुआ था उसका कम्युनिकेशन अमेरिका डिफेंस अच्छे से नहीं कर पा रही थी  । तो इसीलिए  साल 1969 में ARPANET मतलब (Advance Research project Agency) नाम का Networking Project लॉन्च किया गया था।

जिसका यूज़ युद्द के समय बिना किसी मुश्किलों के इम्पोर्टेन्ट मैसेज भेजने और कम्युनिकेशन व्यवस्था को सुरक्षित रखने के लिए किया गया था। वहीं थोड़े समय बाद इससे मिलने वाले बेनिफिट(लाभ )  को देख शोधकर्ता, वैज्ञानिक, मिलिट्री और बहोत सारे लोग  इसका इस्तेमाल करने लगे।

इसके बाद धीरे-धीरे इसकी लोकप्रियता बढ़ती चली गई। और आज इस नेटवर्क ने पूरी दुनिया को अपनी गिरफ्त में ले लिया है तो इसका कोई ओनर नहीं क्यूंकि ये एक दूसरे को कनेक्ट होके बना है आज अगर अमेरिका नेटवर्क से बहार हो जाता है तो भी इंटरनेट चलते रहेगा बाकि कंट्रीयोंके बिच  ।

तो इंटरनेट के जनक कौन है ?
सबसे पहले ‘Vinton Gray Cerf‘ और ‘Bob Kanh‘ नाम के दो साइंटिस्ट के द्दारा साल 1970 में इंटरनेट की शुरुआत की गई थी। इसलिए इन्हें इंटरनेट का जनक भी कहा जाता है।

- Advertisement -

पहला ईमेल कब भेजा और किसने ? 
आजकल करड़ो ईमेल भेजे जाते है पर पहला ईमेल १९७२ में भेजा गया था | और वो “RAY TOMLINSON” ने भेजा था |

नेशनल साइंस फाउंडेशन ने कुछ HIGH SPEED कंम्यूटरों को जोड़कर साल 1980 में एक नेटवर्क “NSFNet” तैयार किया, वहीं इसी साल में  बिल गेट्स की कंपनी “MICROSOFT” ने भी अपना ऑपरेटिंग सिस्टम आईबीएम के कंप्यूटर पर लगाने का CONTRACT किया था |

और साल 1984 में इस नेटवर्क से १००० से ज्यादा पर्सनल कंप्यूटर जुड गए, इसके बाद धीरे-धीरे इसका तेजी से विकास हुआ और आज इसके दुनिया के सबसे बड़े नेटवर्क का रूप धारण कर लिया है।
आम जनता के लिए साल १९८९  में इंटरनेट चालू कर दिया गया, जिससे इस्तेमाल बड़े स्तर पर लोगों द्धारा कम्यूनिकेशन और रिसर्च के लिए किया जाने लगा

वर्ल्ड वाइड वेब कब आया ? 
WWW याने  वर्ल्ड वाइड वेब की खोज से इंटरनेट को साल १९९० में एक नई दिशा दी गई। इसके बाद इस क्षेत्र में और अधिक तेजी से विकास होता चला गया।

- Advertisement -

इंटरनेट की वर्ड में तेजी से एक के बाद एक अविष्कार होते चले गए, और इसका तेजी से विकास होता चला गया, और आज दुनिया के सभी देशों के नेटवर्क आपस में जुड़ गए, जिससे कम्युनसेशन, रिसर्च, पैसे की लेनदेन समेत तमाम ऐसी चीजें सेंकेण्डों में की जाने लगी है, जिसके बारे में पहले कोई सोच भी नहीं सकता था |

इंडिया में इंटेरेंट कब आया? When Internet was started India?
भारत में (VSNL) विदेश संचार निगम लिमिटेड द्धारा टेलीफोन लाइन के जरिए भारत में सबसे पहले इंटरनेट का इस्तेमाल १५ अगस्त साल १९९५ में किया गया था। शुरुआत में देश में करीब 25- 30 कंप्यूटर ही इंटरनेट से जुड़ सके थे। उस वक्त सिर्फ जरूरी मैसेज के आदान-प्रदान के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता था और सिर्फ कुछ बड़े-बडे़ इंस्टीटूट्स और कॉलेजों को ही इंटरनेट से जोड़ा गया था। वहीं शुरुआत में इसकी स्पीड भी बेहद कम थी। इसके बाद जैसे-जैसे इंटरनेट का भारत में विस्तार होता गया वैसे-वैसे इंटरनेट की स्पीड भी बढ़ती गई आज वही पर्सनल कंप्यूटर के लिए १० से बारा MB के स्पीड का इंटरनेट घर घर यूज़ किया जाता है |

मुझे नहीं लगता आज दुनिया का कोई भी क्षेत्र ऐसा होगा जहाँ इंटरनेट का यूज़ नहीं होता होगा

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

7,690FansLike
3,476FollowersFollow
853,982SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles